DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अगले वित्त वर्ष में 7.6 फीसदी विकास दर का अनुमान

अगले वित्त वर्ष में 7.6 फीसदी विकास दर का अनुमान

केंद्रीय वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने गुरुवार को 2011-12 के लिए आर्थिक समीक्षा लोकसभा में प्रस्तुत करते हुए वित्त वर्ष 2012-13 के दौरान 7.6 फीसदी विकास दर रहने का अनुमान व्यक्त किया है।

समीक्षा के अनुसार चालू वित्त वर्ष के दौरान महंगाई दर 6.5 से सात फीसदी के बीच रहने का अनुमान व्यक्त किया गया है, जबकि आगामी वित्त वर्ष में कड़ी मौद्रिक नीतियों एवं सरकार द्वारा किए गए अन्य उपायों के चलते इसमें और भी कमी आने का अनुमान व्यक्त किया गया है।

समीक्षा के अनुसार चालू वित्त वर्ष के दौरान देश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 6.9 फीसदी की रफ्तार से बढ़ेगा। देश की अर्थव्यवस्था की विकास दर में चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के 6.9 फीसदी की तुलना में तीसरी तिमाही में 6.1 फीसदी की दर से वृद्धि हुई है।

वित्त मंत्री ने कहा कि 6.9 फीसदी की धीमी रफ्तार के बावजूद भारत विश्व की सबसे तेज वृद्धि करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में से एक रहेगी क्योंकि सभी बड़े देशों के साथ उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं की रफ्तार कम हुई है।

समीक्षा के अनुसार अगले वित्त वर्ष में औद्योगिक उत्पादन में सुधार की सम्भावना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अगले वित्त वर्ष में 7.6 फीसदी विकास दर का अनुमान