DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

त्रिवेदी को बर्खास्त करें प्रधानमंत्री: ममता

त्रिवेदी को बर्खास्त करें प्रधानमंत्री: ममता

रेल बजट में यात्री किराया बढ़ाने का प्रस्ताव किए जाने के कुछ ही घंटे बाद एक नाटकीय घटनाक्रम में तृणमूल कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता और रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी को बुधवार की रात उनके पद से हटाने की मांग कर दी, जिससे संप्रग सरकार पर एक असमान्य राजनीतिक संकट छा गया है।

रेल बजट में यात्री किराया बढ़ाए जाने से नाराज तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज रात प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखकर त्रिवेदी को पद से हटाए जाने और उनकी जगह मुकुल रॉय को रेल मंत्री बनाने की मांग की। मुकुल रॉय फिलहाल जहाजरानी राज्य मंत्री हैं इससे पहले वह रेल मंत्रालय में भी अपनी सेवा दे चुके हैं।

ममता ने कहा कि हां, मैंने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर उन्हें (त्रिवेदी के) स्थान पर मुकुल रॉय को रेल मंत्री बनाने की मांग की है, जो केंद्र में दूसरे विभाग के मंत्री हैं।

ममता के फैसले ने देश के संसदीय इतिहास में एक अभूतपूर्व हालात पैदा कर दिया है क्योंकि एक ऐसे मंत्री को हटाये जाने की मांग की गई है, जिसकी ओर से पेश बजट पर चर्चा होनी बाकी है। इसके अलावा, इसने प्रधानमंत्री को एक दिलचस्प हालात में डाल दिया है और यह भी अभूतपूर्व स्थिति है। इस तरह इसका सरकार पर और इसके स्थायित्व पर गंभीर असर पड़ेगा।

यदि ममता के फरमान का पालन नहीं होता है तो तृणमूल जिसके लोकसभा में 19 सांसद हैं और जो दूसरा सबसे बड़ा घटक दल है, वह सरकार से समर्थन वापस ले सकती है। इसके बाद बाहर से समर्थन दे रही सपा और बसपा पर सरकार की निर्भरता बढ़ जाएगी।

ममता का यह कदम प्रधानमंत्री के लिए एक और गंभीर समस्या खड़ी कर सकता है क्योंकि उन्होंने रेल बजट को दूरदर्शितापूर्ण बताते हुए त्रिवेदी की सराहना की थी। आम बजट पेश किए जाने से चंद दिन पहले ममता के बर्ताव को लेकर संप्रग के अंदर गंभीर चिंता छा गई है।

इस बात की भी आशंका है कि वह आम बजट में कुछ खामियां पा सकती हैं और सरकार के लिए और अधिक समस्या खड़ी कर सकती हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:त्रिवेदी को बर्खास्त करें प्रधानमंत्री: ममता