DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

IOC ने डाउ केमिकल पर अपना फैसला दोहराया

IOC ने डाउ केमिकल पर अपना फैसला दोहराया

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक परिषद (आईओसी) ने डाउ केमिकल पर अपना फैसला फिर से दोहराते हुए भारत सरकार की इस कंपनी को लंदन ओलंपिक खेलों के प्रायोजक से हटाने की मांग नामंजूर कर दी। यह कंपनी 1984 के भोपाल गैस कांड से जुड़ी हुई है।

आईओसी अध्यक्ष जाक रोगे ने कहा कि हमारा मानना है कि भोपाल में 1984 में जो कुछ हुआ उसके लिये डाउ कैमीकल जिम्मेदार नहीं है। डाउ ने इस हादसे के 16 साल बाद यूनियन कार्बाइड कंपनी को खरीदा। हमारी स्थिति साफ है। हमारा मानना है कि डाउ जिम्मेदार नहीं था।

उन्होंने कहा कि हां, यह दुखद घटना थी जिसमें 25 हजार लोगों की जान गई तथा कई विकलांग हो गये। हमारी पीड़ितों और उनके परिजनों के प्रति पूरी संवेदना है।

खेल मंत्रालय ने पिछले महीने आईओसी को पत्र लिखकर डाउ को ओलंपिक प्रायोजक से हटाने के लिये कहा था। इस पत्र के जवाब में आईओसी की राष्ट्रीय ओलंपिक समिति के निदेशक पेरे मीरो ने खेल मंत्रालय के संयुक्त सचिव राहुल भटनागर को पत्र लिखकर कहा था कि डाउ कैमीकल भोपाल गैस कांड के समय उस प्लांट को संचालित नहीं करती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:IOC ने डाउ केमिकल पर अपना फैसला दोहराया