DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झांसा दे किये गये गिरफ्तार

पारा शिक्षकों से निबटने में ही पुलिस का दिन बीता। कभी झांसा देकर तो कभी बल पूर्वक पारा शिक्षकों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी का सिलसिला सुबह नौ बजे से ही शुरू हो गया था। रांची शहर में घुसने के साथ ही पुलिस उनके पीछे लग जा रही थी। मोरहाबादी मैदान से बस में बैठाकर उन्हें कैंप जेल सेरसा स्टेडियम ले जाया जा रहा था। कार्यक्रम शुरू होने के पहले ही सैकड़ों पारा शिक्षक गिरफ्तार कर लिये गये थे।गिरफ्तारी की सूचना मिलने के बाद अन्य पारा शिक्षक अलर्ट हो गये। मोरहाबादी मैदान में कार्यक्रम शुरू होने के बाद दस-बीस के समूह में पहुंचने लगे। दो बजे तक सैकड़ों शिक्षक बैरीकेटिंग के अंदर पहुंच गये थे। हाारों की संख्या में शिक्षक मैदान के चारों ओर जमे थे। इधर, पुलिस भी सतर्क थी। तीन बजे तक बैरीकेडिंग के बाहर बढ़ती भीड़ देखकर काफी संख्या में जवानों को लगा दिया गया। टाउन डीएसपी माइक से लगातार हंगामा करनेवाले को सख्ती से निबटने की चेतावनी दे रहे थे। बावजूद इसके शिक्षक इधर-उधर टहलते रहे। सीएम का भाषण शुरू होते हुए सभी पारा शिक्षक बैरीकेटिंग के समीप पहुंच गये। पारा शिक्षकों के स्थायीकरण के संदर्भ में जब सीएम नहीं बोले, तो पारा शिक्षक काला झंडा दिखाने लगे। इसके बाद बाहर खड़े शिक्षक भी उग्र हो गये। चारों ओर खड़े पारा शिक्षक सीएम एवं शिक्षा मंत्री के खिलाफ नारबाजी करने लगे। इसके बाद पुलिस हरकत में आयी और पारा शिक्षकों को समारोह स्थल से बाहर भगाया। आधे घंटे तक मोरहाबादी मैदान में हंगामा होता रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: झांसा दे किये गये गिरफ्तार