DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री को लेकर कांग्रेस में असमंजस बरकरार

उत्तराखंड में इस बात को लेकर रविवार को भी असमंजस की स्थिति बरकरार है कि वहां कांग्रेस नीत सरकार का नेतृत्व कौन करेगा। प्रदेश और केंद्र स्तर के पार्टी के बड़े नेता नये मुख्यमंत्री का नाम तय करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में डेरा डाले हुए हैं।

मुख्यमंत्री पद की दौड़ में केंद्रीय मंत्री हरीश रावत और पार्टी सांसद विजय बहुगुणा का नाम भी है। दोनों ने पार्टी महासचिव और प्रदेश प्रभारी चौधरी वीरेंद्र सिंह से तथा केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद से यहां आजाद के निवास पर दो घंटे तक बातचीत की। रावत ने कहा कि उन्होंने प्रदेश में सरकार गठन पर अपनी राय व्यक्त करने के लिए आजाद से मुलाकात की।
   
उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि मैंने उन्हें अपनी राय बताई। हम न केवल सरकार बनाने की कोशिश कर रहे हैं बल्कि इसे सही से चलाना भी चाहते हैं। मैंने उनसे मुलाकात का अनुरोध किया था क्योंकि आजाद के उत्तराखंड दौरे पर मैं उनसे मिल नहीं सका था।

इस मुलाकात से एक दिन पहले ही केंद्रीय पर्यवेक्षकों आजाद और वीरेंद्र सिंह ने देहरादून में राज्य के 32 पार्टी विधायकों और दो निर्दलीयों के विचार जानने के बाद अपनी रिपोर्ट पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को सौंपी। बहुगुणा ने कहा कि हमारी राय मांगी गयी। यह सरकार बनाने की बात नहीं है बल्कि उसके बाद भी बने रहने वाली चुनौतियों को लेकर है। इस पर हमारी राय मांगी गयी थी। हमने उसे दिया और हमें उम्मीद है कि कांग्रेस अध्यक्ष हमारे विचारों से अवगत होंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उत्तराखंड में मुख्यमंत्री को लेकर कांग्रेस में असमंजस बरकरार