DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तर प्रदेश के परिणामों से परेशान नहीं टीम राहुल

उत्तर प्रदेश के परिणामों से परेशान नहीं टीम राहुल

उत्तर प्रदेश में हार के बावजूद कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी व उनकी टीम के सदस्य टूटे नहीं हैं। इस बुरी हार के कारणों की समीक्षा कर रही टीम राहुल मान रही है कि यूपी में अभी सब कुछ नहीं लुट गया है। दो वर्ष बाद लोकसभा के चुनाव होने हैं और तब तक अपनी गलतियां सुधारने के लिए पार्टी के पास पर्याप्त समय है।

राहुल गांधी का मंत्र है कि असफलता से सीखने को मिलता है। अगर आप सफल हों तो सीखते नहीं। कांग्रेस महासचिव के नजदीकी लोगों में एक ने यह आरोप भी लगाया कि यूपी में कांग्रेस की बढ़ती हुई लोकप्रियता को देखते हुए कुछ उद्योग घरानों ने उसकी संभावनाओं को पलीता लगाने का काम किया। प्रदेश के नेताओं की बयानबाजी से  हुए नुकसान की आम कांग्रेसी की शिकायत को टीम राहुल के सदस्य सही नहीं मान रहे।

सूत्रों ने साफ किया कि इन परिणामों से राहुल गांधी निराश जरूर हैं पर हतोत्साहित नहीं हैं। उत्तर प्रदेश में खुलकर उतरने का फैसला राहुल गांधी ने काफी सोच-समझकर लिया था और यह तब लिया गया जब उत्तर प्रदेश में कोई दूसरा नेता हाथ जलाने को तैयार नहीं था। हालांकि टीम राहुल के सदस्य मान रहे हैं कि यूथ कांग्रेस को पुनर्गठित करने में जितना समय उनके नेता ने लगाया उतना यदि यूपी को दिया गया होता तो शायद परिणाम अपेक्षा के अनुरूप आते।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उत्तर प्रदेश के परिणामों से परेशान नहीं टीम राहुल