DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी में कई जगह सपा समर्थकों की गुंडागर्दी

यूपी में कई जगह सपा समर्थकों की गुंडागर्दी

क्या यूपी में फिर लौटेगा गुंडाराज? कहीं जीत के जश्न में तो कहीं हार से तिलमिलाकर एसपी समर्थकों की गुंडागर्दी सामने आई है, हालांकि पार्टी ने इसे छवि खराब करने की साजिश बताया है।

मंगलवार को पार्टी की जीत के बाद पहली दफा रूबरू हुए अखिलेश यादव गुंडों पर लगाम लगाने के चुनाव बाद का पहला वादा करके हटे ही थे कि उन्हीं की पार्टी के लोग यूपी में गुंडागर्दी का तांडव शुरू कर चुके थे।

शाम होते-होते तीन जगहों से एसपी कार्यकर्ताओं की खुलेआम मनमानी की खबर जुटने लगीं। झांसी में कुछ मीडियाकर्मियों को ही बंधक बना लिया गया और पुलिस की दखल के बाद उन्हें बमुश्किल ही छुड़ाया जा सका। दरअसल, एसपी कार्यकर्ता वोटों की दोबारा गिनती के लिए हंगामा करते-करते पत्रकारों पर ही टूट पड़े मारपीट की गई और कैमरे तोड़े गए।

फिरोजाबाद में कथित एसपी समर्थकों ने हार के बाद सड़क जाम कर हंगामा मचाया। इन्हें हटाने पहुंची पुलिस को हवा में फायरिंग करनी पड़ी जिसमें तीन लोग जख्मी हो गए। इसमें बारह साल के एक लड़के को सिर में गोली लगी और गंभीर हालत में उसे आगरा ले जाना पड़ा।

इसके अलावा संभल में एसपी उम्मीदवार की जीत के जश्न में चली गोली में एक सात साल की बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई। आगरा, मेरठ और मथुरा में भी कथित एसपी समर्थकों ने उधम काटा है।

पहले ही दिन इन घटनाओं ने सवाल खड़ा कर दिया है कि कहीं जीत के बदले समाजवादी पार्टी अपनी पहचान के मुताबिक जनता को गुंडाराज तो नहीं देने जा रही? मुलायम सिंह की पिछली सरकार गुंडागर्दी के आरोपों की वजह से ही चलती बनी थी। कहीं ऐसा ना हो कि गुंडों की गले लगाने की गलती पार्टी को फिर ना भारी पड़ जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी में कई जगह सपा समर्थकों की गुंडागर्दी