DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीरियों ने दिल खोलकर वोट डाले

ाम्मू-कश्मीर में हुए पहले चरण का चुनाव बिना किसी बड़ी हिंसा के गुार गया। सोमवार को दस सीटों के लिए हुए चुनाव में भारी बर्फबारी के बावाूद लोगों ने मतदान में हिस्सा लिया। यहाँं कुल 55 फीसदी मतदान र्दा किया गया है। दिलचस्प बात यह है कि गुरा विधानसभा क्षेत्रोहाँं सबसे यादा बर्फबारी हुई वहाँं मतदान भी सबसे यादा 74.4 फीसदी हुआ। हालाँंकि पिछली बार के मतदान से यह फिर भी 2.2 फीसदी कम है। राय में चुनाव कुल सात चरणों में होने हैं। छह सीटों के लिए दूसरे चरण का मतदान 23 नवंबर को होगा। मुख्य चुनाव आयुक्त एन गोपालास्वामी दोनों चुनावा आयुक्तों के साथ राय के दौर पर हैं।ड्ढr पहले चरण के चुनाव कीोानकारी देते हुए निर्वाचन सदन में चुनाव अधिकारी आर भट्टाचार्य ने बताया कि योना के अनुसार बर्फबारी के कारण पोलिंग पार्टियों को हेलीकाप्टर से मतदान केंद्रों पर लेोाया गया। इन स्थानों पर सड़क संचार अवरुद्ध हो गया था। अब तक की स्थिति से संतुष्ट भट्टाचार्य ने कहा कि 10 सीटों के लिए 1066 पोिलंग बूथ बनाए गए थे। इन सीटों पर मतदाताओं की कुल संख्या छह लाख है। कारगिल में मतदान का प्रतिशत 60 फीसदी रहाोो पिछली बार से 14 फीसदी कम है। वहीं आतंकी गतिविधियों से सबसे यादा प्रभावित सुरनकोट सीट पर 60 फीसदी मतदान हुआ है।ड्ढr ाम्मू क्षेत्र के मेंढर विधानसभा क्षेत्र में एकोगह गड़बड़ी पाई गई और वहाँं पोलिंग पार्टी के सदस्यों को हिरासत में लिया गया। ये सदस्य रात को एक उम्मीदवार के संबंधी के घर रुक गए थे। उन्होंने कहा कि इनके खिलाफ कार्रवाई कीोा रही है और पोलिंग पार्टी को बदल दिया गया है। मेंढर सीट के कुछ मतदान केंद्रों पर फायरिंग की छिटपुट घटना हुई लेकिन इस पर प्रभावी नियंत्रण पा लिया गया। यहाँं दो तीन वोटिंग मशीनों को क्षति पहुँंची है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कश्मीरियों ने दिल खोलकर वोट डाले