अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संचालक ने लगाया 60 हचाार रुपये लूट लेने का आरोप

वैशाली नर्सिग इंस्टीट्यूट का पक्ष : नर्सिग संस्थान के संचालक संजय बैठा का कहना है कि उनकी संस्था भारतीय इंस्टीट्यूट चिकित्सा कांदनील, नयी दिल्ली के तहत चलती है, जो प्राइवेट है। 18 नवंबर को छात्र संघ के कार्यकर्ता संस्थान में पहुंचे और गोदरा का ताला तोड़कर 60 हाार रुपये लूट लिये।ड्ढr फर्ाी है संस्थान : संघड्ढr एसीएस के कोषाध्यक्ष शिवराम कच्छप का आरोप है कि 10 साल से फर्ाी नर्सिग संस्थान चलाया जा रहा है। प्रदर्शन के दौरान वहां पहुंची पुलिस ने बेवजह छात्रों पर लाठी चार्ज किया, जिससे दर्जनों छात्र घायल हो गये। बेरोगार छात्राओं से 50-50 हाार रुपये प्रशिक्षण के नाम पर लिये गये हैं। उन्होंने उचित कार्रवाई की मांग की है।ड्ढr फर्ाी सर्टिफिकेट : छात्राएंड्ढr वैशाली नर्सिग में प्रशिक्षण प्राप्त कर रही छात्राओं का कहना है कि यहां का प्रमाण पत्र फर्ाी है। संस्थान की छात्राओं ने जब सरकारी नौकरी के लिए आवेदन दिया, तो प्रमाण पत्र को फर्ाी बताकर उनके आवेदन रद्द कर दिये गये। प्रशिक्षण देने के नाम पर संचालक द्वारा उनसे हाारों रुपये लिये गये हैं।ड्ढr जांच करायी जायेगी : डीसीड्ढr उपायुक्त राजीव अरुण एक्का ने छात्र संघ के शिष्टमंडल के साथ बातचीत की। उन्होंने आश्वस्त किया है कि वैशाली नर्सिग इंस्टीट्यूट के कार्यकलापों की बुधवार को ही जांच करायी जायेगी।ंं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संचालक ने लगाया 60 हचाार रुपये लूट लेने का आरोप