अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक्सएलआरआइ के छात्रों की मंदी में भी बुलंदी

वैश्विक मंदी के बावजूद एक्सएलआरआइ, जमशेदपुर का समर इन्टर्नशिप रिकॉर्ड तोड़ रहा है। कंपनियों ने संस्थान के छात्रों पर खुलकर पैसे लुटाये हैं। मजेदार बात यह है कि फाइनांस सेक्टर ने मंदी में भी सर्वाधिक 36 फीसदी छात्रों को लॉक किया है। 27 फीसदी छात्र मार्केटिंग, 22 फीसदी जेनेरल मैनेजमेंट और 16 फीसदी छात्र कन्सलटेंसी सेक्टर में लॉक हुए हैं। इस साल कुल 74 कंपनियों ने समर प्रोसेस में भाग लिया, जबकि पिछले साल इनकी संख्या केवल 58 थी। प्लसमेंट सेल के चेयरमैन डॉ राजीव मिश्रा ने बताया कि 180 छात्रों को 200 इन्टर्नशिप ऑफर मिले। इनमें से 15 फीसदी ओवरसीज ऑफर हैं, जो अमेरिका, यूरोप, दक्षिण पूर्व एशिया और मध्य पूर्व से मिले हैं। इस साल औसत स्टाइपेन्ड 85 हाार का रहा है। हांगकांग के वाल स्ट्रीट बैंक ने पांच लाख का स्टाइपेन्ड दिया है। साथ ही मुंबई के एक इन्वेस्टमेंट बैंक ने सर्वाधिक तीन लाख का डोमेस्टिक ऑफर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक्सएलआरआइ के छात्रों की मंदी में भी बुलंदी