अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपने ही क्षेत्र में सीएम की सभा में शरीक नहीं हो सके मंत्री

पर्यटन मंत्री रामप्रवेश राय के बाद अब भाजपा कोटे के ही दूसर धाकड़ मंत्री डा. प्रेम कुमार अपने गृह जिले में आयोजित मुख्यमंत्री की सभा में शरीक नहीं हो सके। यहीं नहीं पूर्वी चम्पारण जिले के प्रभारी मंत्री होने के बावजूद वहां की विकास योजनाओं के शुभारंभ समारोह में भी वे शामिल नहीं हो पाये। पथ निर्माण मंत्री डा. कुमार गया से विधायक हैं जबकि पूर्वी चम्पारण की विकास योजनाओं के कार्यान्वयन के लिए उत्तरदायी हैं।ड्ढr ड्ढr मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 1ो गया और चंडी तथा 20 को मोतिहारी और दरभंगा में इंजीनियरिंग कॉलेजों का उद्घाटन किया। गया और मोतिहारी दोनों जगह डा. कुमार को ‘विशिष्ट अतिथि’ घोषित किया। पर या तो प्रम कुमार को समारोह में शामिल होने का निर्णय देर से लिया गया या उन्हें सूचना देने में देरी की गई। कारण जो हो भाजपा कोटे के मंत्री डा. कुमार अपने गृह जिले गया और प्रभारी मंत्री वाले जिले पूर्वी चम्पारण में आयोजित विकास समारोहों के साक्षी नहीं बन सके । इसके पहले गोपालगंज जिले के निवासी और पर्यटन मंत्री रामप्रवेश राय वहां आयोजित मुख्यमंत्री की एक सभा में शामिल नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं। विज्ञान और प्राद्यौगिकी विभाग के सूत्रों के मुताबिक दोनों समारोहों में पहले सिर्फ मुख्यमंत्री, विभागीय मंत्री और स्थानीय विधायक के ही शामिल करने का कार्यक्रम बन रहा था। पर सूबे के एक वरिष्ठ मंत्री की आपत्ति के बाद जिले के सभी विधायकों और संबंधित मंत्रियों का नाम उद्घाटन समारोह में शामिल किया गया। इस बाबत डा. कुमार ने कहा कि उन्हें उद्घाटन समारोह में शामिल होने की सूचना तब दी गई जब वे दिल्ली की चुनाव प्रचार में शामिल होने का कार्यक्रम बना चुके थे। गुरुवार को फोन पर उन्होंने कहा कि 18 की शाम वे दिल्ली आये हैं और 21 को उनका पटना लौटने का कार्यक्रम है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अपने ही क्षेत्र में सीएम की सभा में शरीक नहीं हो सके मंत्री