DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

युद्धविराम का सवाल ही नहीं : राजपक्षे

श्रीलंका के राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने तमिल विद्रोहियों के खिलाफ सैन्य कार्रवाई रोकने से इनकार करते हुए गुरुवार को कहा कि विद्रोहियों के समर्पण का समय समाप्त हो रहा है। राजपक्षे यहां स 200 किलोमीटर दूर दक्षिणी शहर एमबिलिपिटिया मं एक रैली को संबोधित कर रह थ। उन्होंन कहा, ‘हमन लिबरशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम (लिट्ट) क साथ न कभी युद्धविराम किया है और न ही उसक साथ कभी युद्धविराम करंग।’ राजपक्षे न कहा, ‘विद्रोहियों क पास हथियार डालन और समर्पण क लिए अब समय नहीं रह गया है, क्योंकि हमारा सैन्य अभियान अंतिम चरण मं है।’ राजपक्षे की टिप्पणी एस समय मं आई है, जब एक दिन पहल ही ब्रिटिश विदश मंत्री डविड मिलिबैंड और फ्रांस क विदश मंत्री बर्नार्ड कोचनर न श्रीलंका का दौरा किया था, लकिन दानों मंत्री सैन्य कार्रवाई रोकने क लिए तथा उत्तरी मुल्लइतिवु जिल मं युद्ध क्षेत्र मं फंस नागरिकों तक राहत एजंसियों की पहुंच को क्षाजत दन क लिए श्रीलंका सरकार को राजी नहीं कर पाए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: युद्धविराम का सवाल ही नहीं : राजपक्षे