अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्य में कानून व्यवस्था नहीं: लालू

राजद सुप्रीमो व रल मंत्री लालू प्रसाद ने कहा है कि पूरे राज्य में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। नक्सलियों का आतंक है। जहां कहीं भी केन्द्र सरकार की परियोजनाएं चल रही हैं। वहां नक्सली काम बंद करा दे रहे हैं। कहीं डम्पर जला दिए जा रहे हैं तो कहीं हत्या कर दी जा रही है। सोमवार की शाम यहां एक शादी समारोह में पहुंचे रल मंत्री श्री प्रसाद परिसदन में मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बिहार की सत्ता संभालते नीतीश कुमार ने कहा था कि सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के द्वारा नक्सली समस्या का उन्मूलन किया जाएगा लेकिन कहां है सरकार। पुराने बंद पड़े इांीनियरिंग कालेज को खोलने की सरकार नाटक कर रही है जबकि इंटर की पढ़ाई ध्वस्त है। फोरलेन के निर्माण पर लगा ग्रहणड्ढr मुजफ्फरपुर (का.सं.)। ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर परियोजना के तहत फोरलेन सड़क पर सरपट गाड़ियां दौड़ने के सपने पर ग्रहण लग गया है। सड़क निर्माण की तय सीमा करीब-करीब खत्म हो गई है। पीपरा से लेकर दरभंगा तक फोरलेन बना रही दोनों निर्माण एजेंसियों का कार्यकाल नवंबर-दिसंबर माह में समाप्त हो रहा है। एनएचएआई के परियोजना निदेशक एके वर्मा की मानें तो अबतक मात्र 20 फीसदी कार्य ही हुए हैं। निर्धारित अवधि खत्म होने के बाबत उन्होंने कहा कि मुख्यालय स्तर पर दोनों कंपनियों के भविष्य पर विमर्श हो रहा है।ड्ढr दोनों कंपनियोंे ने कठिनाइयों का हवाला देते हुए एनएचएआई से एक वर्ष का समय मांगा है। हालांकि कंपनी की उपलब्धि को देखते हुए ऐसा माना जा रहा है कि अब किसी अन्य एजेंसी का चयन किया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि अबतक का समय थोड़े-बहुत निर्माण कार्य के अलावा तकनीकी परशानियों को दूर करने में ही बीता है। प्रारंभिक दिनों में निर्माण एजेंसियों के अधिकारियों में असुरक्षा के भय ने भी कार्य की गति को प्रभावित किया। शुरुआत में ही एक एजेंसी के अभियंता का अपहरण हो गया था। इस बीच भू-अर्जन, अतिक्रमण निपटारा, पेड़, विद्युत पोल व टेलीफोन पोल समस्या बनी रही। बाढ़ के दौरान निर्माण सामग्री को कार्यस्थल तक पहुंचाने की समस्या आ गई। कई जगह निर्माण स्थल भी जलमग्न रहा। कंपनी के अधिकारियों ने डीएम से मिलकर अपनी समस्याओं को रखा है जिसपर डीएम विपिन कुमार ने आवश्यक सहयोग देने का भरोसा दिलाया है। ड्ढr कुख्यात की मां गिरफ्तारड्ढr सीतामढ़ी (ए.प्र.)। नगर में बम विस्फोट कर दहशत फैलाने वाले अपराधी चिरांीवी की मां तथा उसके दो साथी सोमवार को पुलिस के हत्थे चढ़ गये। चिरांीवी की मां देवचंद्र देवी के पास से पुलिस को एक लोडेड पिस्तौल तथा दो जिंदा कारतूस मिला है जिसे वह अपने पुत्र के पास पहुंचाने जा रही थी। गुप्त सूचना पर एएसपी अजीत कुमार सिन्हा ने अलग-अलग स्थानों से तीनों को गिरफ्तार किया। एएसपी ने बताया कि चिरांीवी की मां देवचंद्र देवी गैंग की संचालिका तथा संरक्षणदाता थी। वह बिंदेश्वर भगत की दूसरी बीवी है। आपराधिक गतिविधियों में वह अपने पुत्र का सहयोग करती थी। वह डॉक्टरों तथा अन्य महत्वपूर्ण लोगों का फोन नंबर इकट्ठा कर अपने बेटे को देती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राज्य में कानून व्यवस्था नहीं: लालू