अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनाव आयोग को मुद्दा बनाएंगे शरद

स्विस बैंक में काला धन जमा करने वालों के खिलाफ अभियान छेड़ चुके एनडीए के कार्यकारी अध्यक्ष शरद यादव अब चुनाव को मुद्दा बनाऐंगे। तीसर चरण के मतदान के दौरान मधेपुरा में अपना वोट डालने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए हुए शरद यादव ने मतदान का प्रतिशत कम होने के लिए सीधे तौर पर चुनाव आयोग को जिम्मेवार ठहराया है। श्री यादव का कहना है कि आयोग की कई जटिल प्रक्रियाओं के कारण मतदाताओं की मुश्किलें बढ़ी हैं। उन्होंने साफ कहा कि नए परिसीमन का उद्देश्य था मतदाताओं के लिए चुनाव प्रक्रिया को और सरल बनाना लेकिन नये सिर से किये गये परिसीमन ने मतदाताओं की मुश्किलें और बढ़ा दी हैं।ड्ढr ड्ढr पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि देश में चुनाव प्रक्रिया को सहा और सरल बनाने के लिए अलग आयोग बनाने की आवश्यकता है चुनाव के बाद वे इसे मुख्य मुद्दा बनाऐंगे। उन्होंने कहा कि अब आयोग का काम रह गया है वोटिंग मशीन और फोटो पहचान पत्र बनाना। मतदाता को देश का मालिक बताते हुए शरद यादव ने कहा कि चुनाव आयोग के कारण ही मतदाता को भूखे-प्यासे धूप में घंटों वोट डालने के लिए खड़ा रहना पड़ता है। जबकि वोट डालने पहुंचने वाले मतदाताओं को यह महसूस होना चाहिए कि वे देश के लिए वोट डाल रहे हैं और उनका स्वागत किया जाना चाहिए। यहां जो गरीब मतदाता हैं जिन्हें खाने की समस्या है, उससे पहचान पत्र के नाम पर बैंक एकाउंट मांगा जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चुनाव आयोग को मुद्दा बनाएंगे शरद