अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोड नहीं तो वोट नहीं

रोड नहीं तो वोट नहीं। बिजली दो। पानी दो । ऐसे स्लोगन लिखे तख्तियों के साथ नेरिया गांव के लोगों ने वोट बहिष्कार का ऐलान किया है। काफी बुझी-बुझी सी आवाज में भुवनेश्वर शर्मा ने कहा-हमनी ला कोई सरकार ना हई। राजनंद मिश्र अब 80 वर्ष के हो चले हैं, पर गांव तक सड़क का सपना नहीं पूरा हुआ। भीम पासवान पंचायत समिति सदस्य हैं। बताया अभी तो खेतों में लीक के रास्ते ट्रैक्टर आ जाता है। लेकिन बरसात चारों तरफ पानी ही पानी रहता है। गांव से निकलने के बाद चिकसी में कपड़ा बदलते हैं यहां के ग्रामीण। पास के मंगल बिगहा, साहाचक, मोहन बिगहा, वरना, चिरैयाटांड़ आदि करीब आधा दर्जन गांवों की भी यही कहानी है।ड्ढr ड्ढr इन गांवों में बिजली और सिंचाई के साधन भी नहीं है। महेन्द्र शर्मा ने बताया पहले बिजली थी पर वर्ष 2000 में वो भी चली गई। नीतीश के राज में भी विकास की किरण यहां नहीं पहुंची। गांव में स्कूल है, पर गुरुजी आते ही नहीं। नतीजतन नौनिहालों का भविष्य चौपट हो रहा है। कमलेश शर्मा काफी गुस्से में थे। कहने लगे-‘‘अबकी हेलेऽ द नेतवन के गांव में, करिखा पोत के भगा देबईऽ. . .।’’ हालांकि अभी माले के प्रत्याशी रामेश्वर प्रसाद गांव में आ चुके हैं। करीब डेढ़ हजार अबादी व आठ सौ वोटरों वाले नेरिया गांव के ग्रामीण पूरी तरह एकजुट दिखे। चाहे रमेशी मांझी हो, या शंभू पासवान, या श्रीनिवास शर्मा सब के सब वोट बहिष्कार के फैसले पर अडिग दिखे। पूछने पर कि सात तारीख को जब अफसर आएंगे तो क्या करंगे। ग्रामीणों ने एक स्वर में कहा। बूथ पर हम लोग जाएंगे ही नहीं।ड्ढr वे आएंगे तो खाली हाथ लौटेंगे। आजादी के इतने बरस बीत गए। गंगा और पुनपुन का कितना पानी वह गया। पर सिगोड़ी थानान्तर्गत उग्रवादियों के रहमोकरण पर जिंदा नेरिया गांव के लोग अब भी बिजली, सड़क सिंचाई, शिक्षा जैसे बुनियादी सुविधाओं से महरुम है। अब देखना है वोट बहिष्कार का एलान कर चुके नेरिया गांव में नेता किस मुंह से वोट मांगने पहुंचते हैं। लालू की सभा में हाथी-घोड़ा का प्रदर्शनड्ढr मनेर (सं.सू.)। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को हाथी और घोड़े की सलामी के चक्कर में गुरुवार को विधायक श्रीकांत निराला फिर से आचार संहिता के फंदे में आ गए। मनेर के व्यापुर हाई स्कूल में एक सभा के दौरान आयोजक श्रीकांत निराला लालू के स्वागत में हाथी और घोड़े को लेकर आए थे। वहां के सेक्टर पदाधिकारी परवेज आलम के लिखित बयान पर उप निर्वाची पदाधिकारी, मनेर ने थाने में राजद विधायक के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का मामला कांड संख्या 1450े तहत दर्ज कराया है। वहीं दूसरी ओर भाकपा माले के प्रचार वाहन का कागजात नहीं प्रस्तुत करने पर पाटलिपुत्र से पार्टी के प्रत्याशी रामेश्वर प्रसाद पर एक भी आचार संहिता का मामला दर्ज किया गया। उनके खिलाफ मनेर थाने में कांड संख्या 1440े तहत मामला दर्ज कराया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रोड नहीं तो वोट नहीं