अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जल्द शुरू होगी स्वरोचागार उपलब्ध कराने की कवायद

नक्सल प्रभावित इलाकों के युवकों को स्वरोगार का अवसर उपलब्ध कराने की कवायद जल्द ही शुरू की जाएगी। जिलाधिकारी जितेन्द्र कुमार सिन्हा ने जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक को ऐसे युवकों को उद्योग धंधों से जोड़ने की कार्रवाई शुरू करने का निर्देश दिया है। वे मंगलवार को तकनीकी पदाधिकारियों की जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक को संबोधित कर रहे थे।ड्ढr ड्ढr बैठक में डीएम ने बताया कि जिले में अभी 55 सौ उद्योग चल रहे हैं। उन्होंने महाप्रबंधक को सिंगल विन्डो सिस्टम की बैठक जल्द बुलाने का भी निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने उच्च न्यायालय, विधानसभ और अंकेक्षण से संबंधित लंबित मामलों का निपटरा जल्द से जल्द करने का निर्देश दिया। सिविल सर्जन को संबोधित कर हुए जिलाधिकारी ने उन्हें अस्पतालों में दवा की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि मरीाों को समय पर दवा मिले यह जिम्मेवारी सिविल सर्जन की है। डीएम ने वन प्रमंडल के पदाधिकारी को गांधी मैदान और नरगा के तहत ग्रामीण इलाकों में वृक्षारोपण कराने का आदेश दिया।ड्ढr ड्ढr उन्होंने वन प्रमंडल के पदाधिकारी को राष्ट्रीय उच्च पथों पर वृक्षों की कटाई कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी श्री सिन्हा ने मत्स्य पदाधिकारी को प्रशिक्षण और बैंकों से लोन लेने के इच्छुक मछली पालकों की मदद करने का निर्देश दिया। डीएम ने अजाविनी के कार्यपालक पदाधिकारी से आवेदकों को अनुदान उपलब्ध कराने का निर्देश देते हुए महादलितों को पहुंचाए गए लाभ का प्रतिवेदन शीघ्र उपलब्ध कराने का आदेश दिया। बैठक में उप विकास आयुक्त राजीव कुमार सिंह, राष्ट्रीय नियोजन कार्यक्रम के निदेशक चंद्रशेखर सिंह समेत जिले के सभी वरीय तकनीकी पदाधिकारी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जल्द शुरू होगी स्वरोचागार उपलब्ध कराने की कवायद