अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गायब पाये गये 11 शिक्षक शो कॉज, हेडमास्टर भी नपे

डीएसइ प्रदीप कुमार चौबे ने 26 नवंबर को राजधानी और आसपास के आठ स्कूलों का निरीक्षण किया। स्कूल की व्यवस्था देख शिक्षकों को कड़ी फटकार लगायी। निरीक्षण में 11 शिक्षक एबसेंट पाये गये। स्कूल में रंग-रोगन भी नहीं किया गया था। इस कारण सभी शिक्षक एवं हेडमास्टर को शो कॉज जारी किया गया है। स्कूल में अच्छी व्यवस्था नहीं होने के कारण मांडर, ओरमांझी, रातू और कांके बीइइओ को शो कॉज जारी किया गया है। सबसे बड़ी बात यह है कि मिडिल स्कूल कन्या ओरमांझी बंद मिला।ड्ढr मिडिल स्कूल ललगुटवा में तनुजा कुमारी, गिरिाा शंकर पांडेय, रामानंद झा, अजय कुमार, मिडिल स्कूल पिर्रा में दुलारी तिग्गा, सैयद शब्बीर रिावी, प्राइमरी स्कूल रातू में गीता कुमारी, नव प्राथमिक स्कूल मांडर में एतवा उरांव, खदू तिग्गा एबसेंट एवं मिडिल स्कूल करगे में चंद्रिका प्रसाद, नीलम कुमारी, राकेश कुमार हाजिरी बनाकर गायब पाये गये। इसी स्कूल के एक पारा शिक्षक विनोद भगत धूप में बैठकर आराम फरमा रहे थे। डीएसइ ने उक्त पारा शिक्षक से शिक्षण कार्य नहीं कराने का निर्देश दिया। स्कूल में 57 सेट किताबें डंप पड़ी हैं। इसे छात्रों के बीच नहीं बांटा गया है। डीएसइ ने स्कूल को चमकाने एवं मिड डे मिल पर विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश दिया। भोजन के पहले छात्रों को हाथ धुलाने एवं खाना ढंककर रखने की बात कही गयी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गायब पाये गये 11 शिक्षक शो कॉज, हेडमास्टर भी नपे