अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गिरोह बेगूसराय का, ठिकाना दिल्ली में

‘हरि अनंत हरि कथा अनंता’ की तरह नशाखुरानी गिरोहों की भी अनगिनत कहानी है। ताजा मामला बेगूसराय के एक ऐसे गैंग का है जिसने अपना ठिकाना नई दिल्ली में बना रखा है। वहीं से गुर्गे ‘मिशन नशाखुरानी’ पर निकलते हैं और फिर हजारों-लाखों की संपत्ति लूट कर वापस दिल्ली लौट जाते हैं।ड्ढr ड्ढr रल पुलिस के समक्ष अंतर्राज्यीय गिरोह के शातिर सगरना रामचंद्र वर्मा ने इस गिरोह का भेद खोलते हुए बताया कि इसके सरगना व सदस्य बेगूसराय जिले के खोदावनपुर प्रखंड के अंतर्गत किसी गांव के रहने वाले हैं। हालांकि गांव का नाम वह नहीं बता पाया। पटना जंक्शन रल पुलिस थानाध्यक्ष आलोक कुमार सिंह के अनुसार रामचंद्र ने बताया कि यह गैंग अमूमन रात के समय ही उत्पात मचाता है। निशाने पर होती है दिल्ली से बिहार की ओर जाने वाली ट्रनों की जेनरल बोगी में सवार गरीब-मजदूर तबके के लोग। दिल्ली से इलाहाबाद के बीच लुटेर यात्रियों को बेहोश करके सामान गायब करने के बाद उतर जाते हैं। बिहार का होने के कारण वे ट्रन में सफर कर रहे यहां के लोगों से स्थानीय भाषा में पहले मेलजोल बढ़ाते हैं और फिर मौका देखते ही हाथ साफ कर देते हैं। लोकल भाषा बोलने के कारण डिब्बे में सवार अन्य यात्री भी आसानी से उन पर शक नहीं करते और वे लूटपाट कर चंपत हो जाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गिरोह बेगूसराय का, ठिकाना दिल्ली में