DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रैगिंग

यूजीसी के निर्देश के आलोक में रांची यूनिवर्सिटी ने सभी कॉलेजों को नामांकन फार्म के साथ दिये जानेवाले प्रोस्पेक्टस में रैगिंग से संबंधित चेतावनी छापने का निर्देश दिया है। कॉलेजों को प्रोस्पेक्टस में यह जानकारी देनी होगी कि वहां रैगिंग पर प्रतिबंध है। साथ ही इसके दंड के प्रावधानों का विस्तृत विवरण भी देना अनिवार्य होगा। इस संबंध में वीसी प्रो एए खान ने स्पष्ट किया है कि रैगिंग के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट और यूजीसी के निर्देशों का अनुपालन किया जायेगा। अब छात्रों और अभिभावकों को नामांकन के समय ही शपथ पत्र देना होगा कि वे रैगिंग से दूर रहेंगे और एसी किसी भी गतिविधि में न तो भाग लेंगे और न ही इसे प्रश्रय देंगे। शपथ झूठा पाये जाने पर नामांकन रद्द करते हुए उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी। इसके अलावा रैगिंग के खिलाफ जनजागरण अभियान चला कर इसकी बुराइयों से छात्रों को अवगत कराया जायेगा। प्रो खान ने कहा कि शिक्षण संस्थानों को इस मामले का गंभीरता से लेना होगा। ढिलाई बरतनेवाले संस्थान भी दोषी माने जायेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रैगिंग