अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाल-बाल बचे टाटा ग्रुप के तकनीकी निदेशक

टाटा ग्रुप के टेक्नीकल डायरक्टर और टाटा स्टील के पूर्व उप प्रबंध निदेशक डॉ टी मुखर्जी और उनकी टीम के सदस्य मुंबई में बीती रात आतंकवादी हमलों में बाल-बाल बच गये।ड्ढr कंपनी के अनुसार टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा-केमिकल की बोर्ड मीटिंग गुरुवार को होटल ताज में थी। इसमें भाग लेने के लिए टाटा-केमिकल के 15 से 20 अधिकारी एक दिन पूर्व ही मुंबई पहुंच गये थे। इन लोगों को होटल ताज में ठहराया गया था। डॉ मुखर्जी की पत्नी शुभ्रा मुखर्जी ने बताया कि हमला होने पर होटल प्रबंधन ने डॉ मुखर्जी और उनके साथ के लोगों को पीछे के गेट से बाहर निकला। डॉ मुखर्जी रंगते हुए होटल के पिछले गेट के पास पहुंचे और आधी रात के करीब वे होटल से बाहर निकलने में कामयाब रहे।ड्ढr इधर टाटा स्टील के एविएशन विभाग के पायलट कैप्टन आरएन रंधावा की पत्नी की इस आतंकवादी घटना में मौत होने की खबर मिली है। कैप्टन रंधावा चार-पांच वर्ष तक जमशेदपुर में रह चुके हैं। रंधावा डीनर के लिए पत्नी के साथ ताज होटल गये थे। उसी दौरान आतंकवादियों ने होटल पर हमला कर दिया। हर तरफ पुलिस और खौफ साकची कुलसी रोड की रजनी और उनके पति संजय नवी मुंबई में रहते हैं। हिन्दुस्तान से टेलीफोन पर उन्होंने वहां का हाल बयान किया।ड्ढr यहां दहशत का माहौल है लेकिन हम लोग कुशल हैं। आतंकवादियों ने जिस तरह से घटना को अंजाम दिया है, उससे मुंबई के लोग अपने घरों में सिमट कर रह गये हैं। पूरा पुलिस महकमा सड़क पर है और रास्तों पर हर आने-ाानेवाले की पूरी जांच की जा रही है। हर सड॥क और हर गली में पुलिस बल तैनात है।ड्ढr वैसे पुलिस यह भी कह रही है कि डरने की जरूरत नहीं है और नागरिकों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। हमें यहां किसी भी तरह की असुरक्षा तो नहीं महसूस हो रही, लेकिन बाहर से जो खबरं आ रही हैं उससे लोगों के मन में डर जरूर समाया हुआ है। लोग घरों से बाहर जाने में परहेा कर रहे हैं। यहां ऐसे लोगों की संख्या काफी अधिक है जो झारखंड, बिहार और देश के अन्य भागों से आकर यहां बसे हैं। ऐसे में उनके परिवारवाले लगातार फोन कर उनका कुशल-क्षेम पूछ रहे हैं। वैसे मुंबई के कुछ इलाके ऐसे भी हैं जहां अफरातफरी का आलम है लेकिन अन्य जगहों में शांति है मगर लोग आशंकित जरूर हैं।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बाल-बाल बचे टाटा ग्रुप के तकनीकी निदेशक