DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जरदारी पाकिस्तान लौटे, तख्ता पलट की अफवाहों पर विराम

जरदारी पाकिस्तान लौटे, तख्ता पलट की अफवाहों पर विराम

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी रविवार रात स्वदेश लौट आए। सोमवार से उन्होंने कामकाज भी शुरू कर दिया। इसके साथ ही पाकिस्तान में  तख्तापलट की अफवाहों पर विराम लग गया है।

जरदारी दिल की बीमारी के इलाज के लिए छह दिसम्बर को अचानक देश छोड़कर दुबई चले गए थे। वह करीब दो सप्ताह तक वहां रहे। इस बीच पाकिस्तान की सूचना एवं प्रसारण मंत्री फिरदौस आशिक एवान ने कहा कि जरदारी की वापसी से सभी अफवाहों पर विराम लग गया है। साथ ही देश में अव्यवस्था व अस्थिरता की स्थिति पैदा करने की कोशिश करने वाली ताकतों को भी नाकामी हाथ लगी है।

'एसोसिएटेड प्रेस ऑफ पाकिस्तान' के मुताबिक, उन्होंने पाकिस्तान में तख्तापलट की अफवाहों को हवा देने वालों की आलोचना की।

'जियो न्यूज' के अनुसार, जरदारी को लेकर विशेष विमान रविवार रात एक बजे कराची में पाकिस्तान वायु सेना के मसूर हवाई अड्डे पर उतरा, जहां से वह कराची में ही बिलावल हाउस स्थित अपने घर गए। उनके साथ बेटी आसिफा भी थीं।

बिलावल हाउस के प्रवक्ता एजाज दुर्रानी ने कहा कि राष्ट्रपति पूरी तरह स्वस्थ हैं। कराची में कुछ दिन बिताने के बाद वह इस्लामाबाद पहुंचेंगे।

जरदारी के स्वास्थ्य को लेकर भ्रम की स्थिति रही है। शुरुआती रिपोर्ट में कहा गया था कि वह दिल की बीमारी के इलाज के लिए छह दिसम्बर को अचानक दुबई चले गए, जबकि पाकिस्तान सेना के डॉक्टरों ने उन्हें पूरी तरह स्वस्थ घोषित किया था। एक अमेरिकी पत्रिका ने उन्हें दिल का दौरा पड़ने की बात कही थी।

बाद में कुछ मीडिया रपटों में कहा गया कि उन्हें मस्तिष्काघात हुआ है। इस वजह से उनके दिमाग में रक्तस्राव हुआ है और उनके चेहरे को लकवा मार गया है।

जरदारी (56) के अचानक देश छोड़कर चले जाने के बाद पाकिस्तान में सैन्य तख्ता पलट की अटकलें भी लगाई जाने लगी थीं। सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान लौटने से पहले शनिवार को प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी और सेना प्रमुख अशफाक परवेज कयानी से फोन पर बातचीत की।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जरदारी पाकिस्तान लौटे, तख्ता पलट की अफवाहों पर विराम