DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंत्रालय से जालसाजी मामले में सैन्य अधिकारी को जेल

मंत्रालय से जालसाजी मामले में सैन्य अधिकारी को जेल

रक्षा मंत्रालय के स्टोर के लिए सामग्री की खरीद में सरकार को 22 लाख रुपये का चूना लगाने के मामले में दिल्ली की एक अदालत ने सेना के एक सेवानिवृत्त अधिकारी और दो अन्य लोगों को कारावास की सजा सुनाई है।

विशेष न्यायाधीश वी के महेश्वरी ने कहा कि यह बात बिना किसी शक ओ शुबा के कही जा सकती है कि तीनों आरोपी रक्षा मंत्रालय के साथ जालसाजी करने के अपने अवैध उद्देश्य को हासिल करने के लिए काम कर रहे थे। इस मामले में सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट कर्नल पी एस राव को दो वर्ष के कारावास की सजा सुनाई गई, जबकि अवर श्रेणी लिपिक दीपक दत्त मुदगल और उसके भाई राहुल दत्त मुदगल को चाऱ चार वर्ष के कारावास की सजा सुनाई गई।

गौरतलब है कि 1994 में राव सेना मुख्यालय के बजट एवं भंडार प्रकोष्ठ में उपनिदेशक के पद पर नियुक्त थे, जबकि दीपक उनके अधीन कार्यरत था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मंत्रालय से जालसाजी मामले में सैन्य अधिकारी को जेल