DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान में जरदारी को था जान का खतरा

पाकिस्तान में जरदारी को था जान का खतरा

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने कहा है कि राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को मजबूरी में इलाज के लिए दुबई जाना पड़ा क्योंकि पाकिस्तान में उनकी जान को खतरा था।
   
गिलानी ने सीनेट में कहा कि सरकार और जरदारी के परिवार ने उन्हें इलाज के लिए दुबई जाने पर राजी किया क्योंकि पाकिस्तान के अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किए जाने पर उनपर जानलेवा हमला होने का डर था। गिलानी ने कहा कि वह बीमार थे और पाकिस्तान के अस्पताल में उनकी जान को खतरा था़, यही कारण था कि वह पाकिस्तान के किसी अस्पताल में नहीं जाना चाहते थे।
   
उन्होंने कहा कि हमने उन्हें समझाया और मनाया। उनके परिवार ने उन्हें दुबई जाने के लिए तैयार किया। जरदारी (56) को छह दिसंबर को हदय संबंधी समस्या के इलाज के लिए दुबई के अमेरिकन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें बुधवार को ही अस्पताल से छुट्टी मिली है। जरदारी अभी और कुछ दिन वहां अपने परिवार के साथ रहेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाकिस्तान में जरदारी को था जान का खतरा