अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सौ धमाके, 50 घंटे, 200 लाशें

शुक्रवार को एनएसजी कमांडो ने 40 घंटे के बाद ओबेराय होटल को आतंकियों को मारकर मुक्त कराया और फिर 45 घंटे के बाद कमांडो ने पूरी रणनीति से नरीमन हाउस को आजाद कराया। कमांडो ने ओबेराय होटल और नरीमन हाउस में दो-दो आतंकियों को मार गिराया है। ओब्राय होटल से 30 शव मिले और आतंकियों से छुड़ाये गये 8 घायल बंधकों को ब्रीच कैंडी अस्पताल में भेजा गया। उधर, ताज होटल में कमांडो कार्रवाई बिल्कुल अंतिम चरण में है। किसी भी पल आतंकियों को मार गिराये जाने की खबर आ सकती है। इस बीच, एक कमांडो ने दावा किया है कि उसने ताज में कम से कम 50 लोगों के शव देखे हैं। लगातार 50 घंटे से चल रही जंग में अब तक कम से कम आतंकियों ने सौ धमाके किये हैं। इन धमाकों में कम से कम 200 लोगों की जाने जा चुकी हैं। नरीमन हाउस में बंधक इस्रइली परिवार के पांच सदस्यों को आतंकियों ने मार डाला। आतंकियों ने तीन को पहले ही मार दिया था। नरीमन हाउस के ऑपरशन को सफल बनाने के लिए एनएसजी के मेजर संदीप उन्नीकृष्णन और कमांडो गजेंद्र सिंह शहीद हो गये। ओबराय और नरीमन हाउस को मुक्त कराने पर लोगों ने कमांडो का तालियों से स्वागत किया और एनएसजी जिंदाबाद और भारत माता की जय के नार लगाये। एनएसजी के डीाी ज्योति किशन दत्ता ने कहा कि ओबेराय के दोनों आतंकी मार गये हैं। आतंकियों से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किये गये हैं। 0 विदेशियों को पूरी सुरक्षा के बीच ले जाया गया। उनमें से घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। कमांडो ने होटल की 11 वीं मंजिल पर पहुंच कर 16 वीं मंजिल पर डेरा जमाये आतंकियों को मार गिराया। पुलिस, सेना और कमांडो ने संयुक्त रूप से आतंकियों मार गिराने की रणनीति तैयार की थी और उसी के तहत ओबराय के बाद नरीमन हाउस को भी आतंकियों से आजाद कराया गया। शुक्रवार की सुबह हेलीकॉप्टर के सहार तीन खेप में एनएसजी के कमांडो नरीमन हाउस की ऊपरी मंजिल के अलावा उसके पास की तीन इमारतों पर उतर और नरीमन हाउस को घेर लिया था। इस बीच दिनभर कमांडो और आतंकियों के बीच जमकर गोलीबारी हुई और आखिर में शाम में कमांडो ने नरीमन हाउस की चौथी मंजिल को उड़ाया और फिर आतंकियों को मार गिराया। रात करीब बजे इसकी आधिकारिक घोषणा की गयी। नरीमन हाउसड्ढr दूसरी और चौथी मंजिल पर पांच बंधकों की हत्या तीसरी मंजिल पर कब्जे के लिए हुई भीषण मुठभेड़ सेना पर लगातार ग्रेनेड हमले, सेना ने बम से दीवार उड़ायी देश में पहली बार हेलीकॉप्टर से कमांडो कार्रवाईड्ढr होटल ताजड्ढr भीषण जंग, कमांडो अंदर घुसे, कब्जा किसी भी वक्त एनएसजी मेजरसंदीप उन्नीकृष्णन शहीद नयी इमारत कब्जे में पुरानी में छिपे दो आतंकी घिर कई कमरे अंदर से बंद, लोगों के फंसे होने की आशंकाड्ढr कमांडो ने किया अंदर 50 से अधिक शव देखने दावाड्ढr ओबेरॉय ट्राइडेंट होटलड्ढr कमांडो ने दोनों आतंकी मार गिराये दोनों इमारतें खाली करवायीं, 30 और शव मिले एके 47 राइफलें और गोला-बारूद मिला

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सौ धमाके, 50 घंटे, 200 लाशें