DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोफा सेट दक्षिण या पश्चिम में रखें

सोफा सेट दक्षिण या पश्चिम में रखें

ड्रॉइंगरूम आपकी जीवनशैली का ही परिचय नहीं देता बल्कि वह वास्तु के अनुरूप हो तो घर के लोगों को शुभ फल भी देता है। तो ड्रॉइंगरूम को वास्तु अनुरूप क्यों न बनाएं।

ड्रॉइंगरूम घर का सबसे खूबसूरत स्थान होता है। यह वह स्थान होता है, जहां न सिर्फ आप अपना दिनभर का अधिकांश समय बिताते हैं, बल्कि आगंतुकों की मेहमाननवाजी भी करते हैं। आगंतुक को आपके घर की साज-सज्जा, आपकी जीवनशैली और इंटीरियर के बारे में समझ का अंदाजा ड्राइंगरूम को देखकर ही हो जाता है। इसीलिए महत्वपूर्ण है कि आप अपने ड्राइंगरूम को किस प्रकार सुसज्जित करते हैं।

ड्राइंगरूम से जुड़े आवश्यक दिशा-निर्देशों की चर्चा करने से पूर्व आपको यह जानना आवश्यक है कि घर के इस सबसे अहम स्थान को किस दिशा में होना चाहिए, जिससे यह पारिवारिक सदस्यों को शुभ फल प्रदान करें। प्रवेश द्वार की तरह ही ड्रॉइंगरूम भी अति महत्वपूर्ण है, लिहाजा इसके लिए सवरेचित स्थान उत्तर, पूर्व अथवा उत्तर-पूर्व है।

इन बातों का रखें खयाल
-सोफा सेट को दक्षिण या पश्चिमी हिस्से की दीवार के पास रखें।
-पानी के शो-पीस जैसे फाउंटेन या फिश एक्वेरियम कक्ष के उत्तरी कोने में रखने चाहिए।
-अग्नि एवं वायु एक-दूजे के पूरक अर्थात् मित्र माने जाते हैं। अगर कक्ष में फायर प्लेस बनाना चाहते हैं, तो उसे दक्षिण-पूर्व या उत्तर-पश्चिमी भाग में बनाएं।
-ड्रॉइंग रूम में प्राकृतिक रोशनी पर्याप्त मात्र में रहे, यह सुनिश्चित करने के लिए कक्ष की उत्तरी या पूर्वी दीवार में बड़ी खिड़कियां बनानी चाहिए।
-ड्रॉइंगरूम की दीवारों का रंग हल्का हो, इसका खयाल रखें।
-दीवारों के रंग छत के रंग से अलग होना चाहिए।
-कक्ष में ऐसी कोई तस्वीर या शो-पीस न हो, जो युद्घ, मौत और गुस्से को दर्शाते हों।

दोष हो तो करें दूर
-अगर आपके घर में ड्राइंगरूम उपरोक्त दिशाओं में न होकर दक्षिण, दक्षिण-पश्चिम अथवा पश्चिम में है और उसे अन्यत्र स्थानांतरित करने का विकल्प नहीं है तो भी आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। इसके लिए वास्तु में रेमिडी यानी उपायों का प्रावधान है। कुशल वास्तु विशेषज्ञ के मार्गदर्शन में इन उपायों को अपनाकर ड्रॉइंगरूम से संबंधित वास्तुदोष निवारण कर सकते हैं।

-ड्रॉइंगरूम का इंटीरियर इस प्रकार का होना चाहिए कि वहां चलने-फिरने के लिए पर्याप्त स्थान हो। ड्रॉइंगरूम में फर्नीचर दीवारों से सटाकर नहीं रखना चाहिए, बल्कि उनके पीछे इतना स्थान अवश्य हो कि वहां हवा का प्रवाह बना रहे, जिससे कमरे में पर्याप्त ऊर्जा बनी रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोफा सेट दक्षिण या पश्चिम में रखें