DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस साल अब तक 41.5 लाख रुपए के जाली नोट जब्त

बिहार में जाली नोट की तस्करी एवं उसका प्रचलन पिछले सालों की तुलना में काफी बढ़ा है और वर्ष 2010 में बिहार में जहां कुल 18 लाख 69 हजार 130 रुपए मूल्य की भारतीय जाली मुद्रा जब्त की गयी थी वहीं इस वर्ष अब तक यहां 41 लाख 50 हजार 429 रुपए मूल्य के भारतीय जाली नोट जब्त किए गए हैं।

राजस्व आसूचना निदेशालय (डीआरआई) की टीम ने गत दो दिसंबर को गुप्त सूचना के आधार पर भारत-नेपाल सीमा से पूर्वी चंपारण जिले के पिपराकोठी-मोतिहारी रोड पर एक यात्री बस में छापेमारी कर 20 लाख रुपए के जाली नोट के साथ अशरफुल आलम नामक एक तस्कर को गिरफ्तार किया था। जब्त सभी जाली नोट एक-एक हजार रूपये के थे।

गिरफ्तार व्यक्ति पश्चिम बंगाल के माल्दा जिले के मोहनपुर गांव का रहने वाला था और वह बांग्लादेश से जाली नोट की उक्त खेप को लेकर पूर्वी चंपारण आ रहा था।

पटना पुलिस ने गत 24 अक्टूबर को एसटीएफ के सहयोग से चौक थाना अंतर्गत एक घर में छापेमारी कर 57 हजार रुपए के जाली नोट बरामद करते हुए जाली नोट छापने वाले एक गिरोह के चार सदस्यों प्रेम कुमार, कमलजीत सिंह, राजू उर्फ सख्खू और धीरज कुमार को गिरफ्तार किया था।

जहानाबाद जिला पुलिस ने गत 24 सितंबर को मखदुमपुर थाना अंतर्गत उमता मोड के समीप दो तस्करों राम सिंह और पप्पू शर्मा को 75500 रुपए के भारतीय जाली नोट के साथ गिरफ्तार किया था। जब्त किए गये इन जाली नोटों में पांच सौ के 139 और एक हजार के छह नोट शामिल थे।

नवादा जिला पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर गत 19 सितंबर को रजौली थाना क्षेत्र में छापामारी कर झारखंड से जाली नोट लाकर नवादा के बाजार में उसे खपाने वाले एक गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया था।

जाली नोट का कारोबार करने वाले गिरफ्तार ये तीनों लोग मोहम्मद आबिद, गौरव कुमार और दीपक कुमार के पास से पुलिस ने पांच-पांच सौ रुपए मूल्य के 17 हजार रुपए के जाली नोट बरामद किए।

कटिहार जिला पुलिस ने गत दस सितंबर को प्राणपुर थाना अंतर्गत बस्तौल गांव से पांच-पांच सौ रुपए के पचास हजार रुपए के जाली भारतीय मुद्रा के साथ दो तस्करों शफीउर शेख उर्फ हरसुद्दीन और मो अंजीर को गिरफ्तार किया था।

शफीउर शेख पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के कालियाचक थाना क्षेत्र का निवासी था और वह जाली नोट की उक्त खेप कटिहार जिले के प्राणपुर थाना अंतर्गत लावा गांव निवासी मो अंजीर को देने आया था।

भोजपुर जिला पुलिस ने गत 20 जुलाई को बिहियां थाना अंतर्गत कुंअरदह गांव के समीप दो लोगों को गिरफ्तार कर उनके पास से पांच-पांच सौ रुपए के 25 हजार मूल्य के जाली नोट बरामद किये थे।

बिहियां थाना क्षेत्र के गौरा गांव में गत मई माह में भी 30 हजार रुपए के जाली नोट के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। जहानाबाद जिला पुलिस ने गत 11 जुलाई को नगर थाना अंतर्गत उंटा मदारपुर मुहल्ले में जाली नोट चलाने वाले गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार कर उसके पास से 26 हजार रुपए मूल्य के नकली नोट बरामद किए। गिरफ्तार व्यक्ति का नाम इंग्लिश यादव था और उसके पास से पुलिस ने पांच-पांच सौ रुपए मूल्य के 26 हजार रुपए मूल्य के नकली नोट एवं एक पिस्तौल तथा तीन कारतूस भी बरामद किए।

गत पांच जुलाई को पश्चिमी चंपारण जिला पुलिस ने मुफस्सिल थाना अंतर्गत पिपरा गांव में एक घर में छापामारी कर दो लाख 90 हजार रुपए के भारतीय जाली नोट बरामद किये। बरामद सारे नोट पांच सौ रूपये के हैं और ये जाली नोट पिपरा गांव निवासी अरविंद बिंद के घर से मिले, जो छापामारी की भनक लगने पर फरार हो गया था।

पूर्वी चंपारण जिले में पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर गत 13 अक्टूबर को हरसिद्धि थाना क्षेत्र अंतर्गत यादवपुर गांव में छापेमारी कर आईएसआई के एक संदिग्ध एजेंट तथा जाली नोट के कारोबारी प्रमोद कुशवाहा और उसके एक सहयोगी दुर्गेश नारायण को गिरफ्तार किया।

पुलिस ने प्रमोद के पास से करीब 10 लाख रुपए मूल्य के जाली नोट, 10 मोबाइल फोन, 10 पासपोर्ट और आधा दर्जन नेपाली सिम बरामद किये। कुशवाहा ने पुलिस पूछताछ के दौरान यह स्वीकार किया कि वह नेपाल से जाली नोट का कारोबार एक पाकिस्तानी और एक अन्य व्यक्ति के सहयोग से करता था।

कुशवाहा नेपाल से लाए गए जाली नोट को मुंबई, उत्तर प्रदेश एवं बिहार में चलाता था। इस काम में लाहौर निवासी इरफानुल्लाह और इस्माइल मियां उसके साथी थे। कुशवाहा ने बताया कि 2009 में वह मुंबई में साढ़े पांच लाख रुपए मूल्य के जाली नोट के साथ गिरफ्तार हुआ था। तीन महीने जेल में रहने के बाद वह जमानत पर छूटा।

रक्सौल निवासी कुशवाहा ने बताया कि वह पूर्व में जाली नोट के एक वाहक के रूप में काम करता पर बाद में उसने अपना एक गिरोह बना लिया। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2009 में बिहार में पुलिस और अन्य एजेंसियों ने 13 लाख सात हजार 480 रुपये मूल्य की भारतीय जाली मुद्रा जब्त की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इस साल 41.5 लाख रुपए के जाली नोट जब्त