DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

द्रविड़, वाडेकर बीसीसीआई के शीर्ष पुरस्कार से सम्मानित

द्रविड़, वाडेकर बीसीसीआई के शीर्ष पुरस्कार से सम्मानित

अनुभवी भारतीय बल्लेबाज राहुल द्रविड़ और पूर्व कप्तान अजित वाडेकर को शनिवार को यहां भारतीय क्रिकेट बोर्ड के शीर्ष पुरस्कार क्रमश: पाली उमरीगर पुरस्कार और सीके नायडू लाइफटाइम एचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

द्रविड़ ने अक्तूबर 2010 से सितंबर 2011 तक 15 टेस्ट में 53 से ज्यादा के औसत से छह शतक समेत 1285 रन बनाये हैं । उन्होंने वीडियो संदेश में कहा, मुझे लगता है कि मैं कड़ी मेहनत से ही यह अच्छा प्रदर्शन कर पाया हूं। मुझे लगता है कि इस साल इसका फल मिल गया है।

द्रविड़ ने कहा कि यह मिश्रित वर्ष रहा क्योंकि दक्षिण अफ्रीका में निराशा प्राप्त हुई थी, फिर इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला, लेकिन जब आपका बोर्ड आपको वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में सम्मानित करता है तो यह सम्मानजक है। द्रविड़ की अनुपस्थिति में उनके माता पिता ने यह पुरस्कार हासिल किया।

वाडेकर को 1971 के शानदार दौरे की 40वीं वर्षगांठ पर यह सीके नायडू लाइफटाइम एचीवमेंट पुरस्कार दिया गया। उन्होंने भारतीय टीम की अगुवाई करते हुए 1971 में वेस्टइंडीज और इंग्लैंड श्रृंखला में जीत दिलायी थी।

बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवास से यह पुरस्कार हासिल करते हुए वाडेकर ने इसे 1971 दौरे में टीम के साथियों को समर्पित किया। वाडेकर ने कहा कि मैं इससे काफी खुश हूं। मैं नहीं जानता कि मैं बीसीसीआई के सर्वोच्च पुरस्कार का हकदार हूं या नहीं। मैं अपनी कालेज की क्रिकेट टीम में 12वां खिलाड़ी था। मैं उनके लिये ड्रिंक्स ले जाया करता था, तभी मुझे टीम में जगह मिली थी।

सचिन तेंदुलकर ने आस्ट्रेलिया से वीडियो संदेश में भारतीय टीम के मैनेजर के तौर पर उनके कार्यकाल को याद करते हुए कहा, वह खिलाड़ियों की मानसिकता को समझते थे। किसी भी कोच का अपने खिलाड़ियों से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कराना काफी अहम है। आपने मेरे लिये और भारतीय टीम के लिये जो कुछ किया है, उसके लिये शुक्रिया।

सीके नायडू लाइफटाइम एचीवमेंट पुरस्कार और पाली उमरीगर पुरस्कार के अलावा इस कार्यक्रम में और क्रिकेटरों को भी अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

माधवराव सिंधिया पुरस्कार (2010-11 रणजी ट्राफी के शीर्ष स्कोरर) एस बद्रीनाथ (चार शतक, तीन अर्धशतक से 922 रन), माधवराव सिंधिया पुरस्कार (2010-11 रणजी ट्राफी में सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाले गेंदबाज भार्गव भट्ट (नौ मैचों में 47 विकेट), एमए चिदम्बरम ट्राफी (2010-11 के सर्वश्रेष्ठ अंडर 19 क्रिकेट) अवि बारोत (सात मैचों में 971 रन)।

एमए चिदम्बरम ट्राफी (2010-11 का सर्वश्रेष्ठ अंडर 22 क्रिकेटर) सूर्यकुमार यादव (सात मैचों में 721 रन), एमए चिदम्बरम ट्राफी (2010-11 की सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर) झूलन गोस्वामी (आठ मैचों में 21 विकेट), एमए चिदम्बरम ट्राफी (2010-11 की सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर जूनियर) मोना मेशराम (आठ मैचों में 623 रन), वर्ष 2010-11 घरेलू क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ अंपायर एस रवि।

वेस्टइंडीज में वर्ष 2011 टेस्ट श्रृंखला में भारत के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर के लिये दिलीप सरदेसाई पुरस्कार इशांत शर्मा (तीन टेस्ट में 22 विकेट), वेस्टइंडीज के खिलाफ 2011-12 में भारत के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर के लिये दिलीप सरदेसाई पुरस्कार आर अश्विन (तीन टेस्ट में 22 विकेट), वर्ष 2010-11 रणजी ट्राफी के लिये सर्वश्रेष्ठ आल राउंडर के लिये लाला अमरनाथ पुरस्कार इकबाल अब्दुल्ला, (आठ मैचों में 385 रन, 27 विकेट)।

वर्ष 2010-11 घरेलू टूर्नामेंट के लिये सर्वश्रेष्ठ आल राउंडर के लिये लाला अमरनाथ पुरस्कार सुमित नरवाल (छह मैचों में 163 रन, 13 विकेट), वर्ष 2010-11 में सर्वश्रेष्ठ ओवरआल प्रदर्शन रेलवे स्पोटर्स प्रोमोशन बोर्ड और दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:द्रविड़, वाडेकर बीसीसीआई के शीर्ष पुरस्कार से सम्मानित