DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जांच नहीं कर पाएगा 'सरकारी' लोकपालः टीम अन्ना

जांच नहीं कर पाएगा 'सरकारी' लोकपालः टीम अन्ना

मजबूत लोकपाल बिल के लिए आंदोलन कर रहे समाज सेवी अन्ना हजारे ने कहा है कि स्टैंडिंग कमिटी ने जो लोकपाल बिल का प्रारूप तैयार किया है उसमें लोकपाल को जांच का अधिकार नहीं होगा।

गांधीवादी नेता अन्ना हजारे के दिल्ली आने के बाद आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए शांति भूषण ने कहा कि स्टैंडिंग कमेटी ने जो प्रारूप संसद में पेश किया है उसे भ्रष्टाचारी की जांच का अधिकार नहीं होगा। वह बस शिकायत सुन सकता है और उन शिकायतों के आधार पर सीबीआई को जांच के लिए कह सकता है। राज्यों से संबंधित मामलों में राज्य की भ्रष्टाचार निरोधक पुलिस मामले की जांच करेगी।

उन्होंने कहा कि किसी भी केस का आधार जांच होती है और अगर जांच ही ठीक से नहीं होगी तो कोर्ट में मामला ऐसे ही गिर जाएगा। उन्होंने अभिषेक मनु सिंघवी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने अपनी वकालत के गुर को लोकपाल बिल के ड्राफ्ट को तैयार करने में लगा दिया।

अन्ना हजारे इसके खिलाफ रविवार को जंतर-मंतर पर एक दिन का सांकेतिक अनशन करेंगे। अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेस में बताया कि इस अनशन में विपक्षी दल के सदस्य भी हिस्सा लेंगे। लेकिन उन्होंने बताया कि कांग्रेस ने इसमें हिस्सा लेने में अपनी असमर्थता जताई है।

अन्ना हजारे ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। प्रेस कॉन्फ्रेंस में शांति भूषण, प्रशांत भूषण, मेधा पाटकर और अरविंद केजरीवाल मौजूद थे। अन्ना ने कहा कि 'सरकार ने सीधे तौर पर धोखाधड़ी की है। मेरे साथ नहीं बल्कि देश के साथ।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जांच नहीं कर पाएगा 'सरकारी' लोकपालः टीम अन्ना