DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दर्शकों को लुभाएगा फिल्म का क्लाइमेक्स!

दर्शकों को लुभाएगा फिल्म का क्लाइमेक्स!

बैंड बाजा बारात बनाकर मनीष शर्मा ने जता दिया था कि उनमें फिल्में बनाने की अच्छी समझ है। लेडीज वर्सेज रिकी बहल के रूप में मनीष कॉन फिल्म लेकर आए हैं। इससे साबित होता है कि उनके काम में वेरायटी भी है। इस फिल्म को बनाने में सबसे ज्यादा मेहनत उन्होंने कलाकारों के चयन को लेकर की। फिल्म से जुड़े अपने अनुभव मनीष खुद हमसे साझा कर रहे हैं।

लेडीज वर्सेज रिकी बहल की कहानी मुझे निजी तौर पर बहुत पसंद है। बहुत अच्छी कहानी लिखी गयी है। फिर मैंने इसे अपने तरीके से डेवलप किया है। मेरी पिछली फिल्म बैंड बाजा बारात से यह बिल्कुल अलग है। वह एक कॉमेडी फिल्म थी जबकि यह एक कॉन फिल्म है। इसकी कैटेगरी एकदम अलग है। इसीलिए इसे बनाते वक्त एक अलग तरह का उत्साह था मेरे अंदर। बतौर निर्देशक मुझे स्पेस मिल रही थी कि मैं खुद को तराश सकूं। इसीलिए इस फिल्म को डायरेक्ट करने की मैंने तुरंत हामी भर दी।

फिल्म बनाने में मुझे सबसे ज्यादा सहयोग दिया फिल्म के प्रोडय़ूसर आदित्य चोपड़ा ने। सबसे बड़ी बात यह कि उन्होंने मुझे उतनी आजादी दी जितनी एक निर्देशक को मिलनी चाहिए। खासतौर से कलाकारों के चयन के मामले में। मैं अनुष्का के साथ बैंड बाजा बारात और रब ने बना दी जोड़ी में काम कर चुका था। इसलिए उनके साथ मैं सहज था। रणबीर के साथ भी मैंने पहले काम किया था और मुझे उनमें यह खूबी नजर आयी थी कि वह कई रूप बदल सकते हैं। दोनों लीड कलाकारों के चयन के बाद मैंने तय किया कि मैं बाकी तीन किरदारों के लिए नई हीरोइनों को ही चुनूंगा।

एक दिन मेरी नजर हमारे मार्केटिंग विभाग में काम करने वाली परिणिति चोपड़ा पर पड़ी। मुझे लगा कि वह डिपंल चड्ढा का किरदार कर सकती है। बस मैंने उससे पूछा कि वह अभिनय करेगी जिसे सुनकर वह काफी खुश हो गयी। इसके बाद मैंने उसका ऑडिशन लिया और बात जम गयी। अब बाकी दो चेहरे तलाशने थे। एक दिन मैंने स्टार प्लस पर टूजी का वीडियो देखा जिसमें अदिति शर्मा थीं। मुझे लगा कि सायरा का किरदार वही निभा सकती हैं, मैंने उनसे तुरंत सम्पर्क किया। हमारी फिल्म के लिए करीब 100 लड़कियों ने ऑडिशन दिए थे, जिसमें से मैंने दीपानिता शर्मा को रैना पारुलेकर के किरदार के लिए चुना।

मेरी फिल्म की सबसे खास बात है इसके पांच किरदार जो एक दूसरे से जीतने की होड़ लगाते हुए दिखते हैं। इसके अलावा फिल्म का क्लाइमेक्स भी काफी चौंकाऊ है जो लोगों को चौंका देगा।

फिल्म का संगीत भी काफी हेप है जो आज के युवाओं को लुभाएगा। इसमें फास्ट स्पेस के साथ एनर्जी बीट्स वाले गाने भी हैं। हर गाना फिल्म को आगे बढ़ाता है। इसीलिए इस फिल्म का संगीत भी लोगों को पसंद आएगा।
शान्तिस्वरूप त्रिपाठी

प्रोफाइल
मनीष शर्मा ने दिल्ली के हंसराज कॉलेज से स्नातक करने के बाद लॉन्स एंजेलिस से फिल्म मेकिंग की पढ़ाई की। इसके बाद वह भारत आए और सीधे मुंबई चले गए। वहां उन्हें यशराज फिल्म्स से जुड़ने का मौका मिला। बतौर सहायक निर्देशक मनीष ने फना, आ जा नच लै और रब ने बना दी जोड़ी में काम किया। फिर उन्होंने यशराज फिल्म्स की बैंड बाजा और बारात का अकेले निर्देशन किया। बतौर निर्देशक लेडीज वर्सेज रिकी बहल उनकी दूसरी फिल्म है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दर्शकों को लुभाएगा फिल्म का क्लाइमेक्स!