DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक आतंकियों के खिलाफ नारे लगा रहे थे लोग

मुंबई में हुए आतंकी हमलों में शहीद हुए एटीएस प्रमुख हेमंत करकर, एनएसजी के हवलदार गजेंद्र सिंह और मेजर संदीप उन्नीकृष्णन का अंतिम संस्कार पूर सम्मान के साथ किया गया। इन्हें सम्मान देने के लिए अंतिम यात्रा में बड़ी संख्या में लोग उमड़ पड़े। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार करकर का पार्थिव शरीर उनके दादर स्थित निवास से मध्य मुंबई के शिवाजी पार्क स्थित शवदाह गृह ले जाया गया। जहां हसन गफूर, राकेश मारिया और के एल प्रसाद जसे शीर्ष पुलिस अधिकारियों के अतिरिक्त राज्य के मुख्यमंत्री विलास राव देशमुख, उप मुख्यमंत्री आर आर पाटिल, मंत्री छगन भुजबल और हर्षवर्धन पाटिल ने श्रद्धांजलि दी।ड्ढr ड्ढr करकर के अंतिम संस्कार में विलंब उनकी दो पुत्रियों के विदेश से लौटने के कारण हुआ है। उनकी बेटी जुई विवाहित हैं और अमेरिका में रहती हैं। जबकि छोटी पुत्री सयाली लंदन में शिक्षा प्राप्त कर रही है। उनका पुत्र आकाश मुंबई में ही रहता है। दूसरी तरफ मेजर संदीप उन्नीकृष्णन का अंतिम संस्कार हिब्बल विद्युत शवदाह गृह में पूरे सैन्य सम्मान के साथ किया गया। सेना के जवानों ने हवा में गोलियां चलाकर उन्हें सलामी दी। देश के लिए जान न्यौछावर करने वाले 31 वर्षीय मेजर संदीप को श्रद्धांजलि देने के लिए स्कूली छात्र, वायुसेना और सैन्यकर्मियों समेत हजारों लोग पंक्ितयों में खड़े थे।ड्ढr ड्ढr वहां मौजूद लोग पाकिस्तानी आतंकवादियों के खिलाफ नारे लगा रहे थे और साथ ही वंदे मातरम तथा संदीप अमर रहे के नारे भी लगा रहे थे। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. एदयुरप्पा उनके मंत्रिमंडल के कुछ सहयोगियो, सेना और पुलिस के शीर्ष अधिकारियों ने मेजर संदीप के पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि अर्पित की। शहीद मेजर संदीप के पिता श्री उन्नीकृष्णन ने कहा कि मुझे गर्व है कि मेरा पुत्र देश के लिए शहीद हो गया। दूसरी ओर नरीमन हाउस में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए एनएसजी के हवलदार गजेंद्र सिंह का शव अंतिम संस्कार के लिए उनके पैतृक निवास देहरादून भेजे जाने से पहले शनिवार को दिल्ली लाया गया। एनएसजी के सभी पदों के अधिकारी शहीद हवलदार को श्रासुमन अíपत करन के लिए पालम स्थित बल के मुख्यालय में एकत्र हुए। एनएसजी के वक्ता ने बताया कि गजेंद्र एनएसजी के 51वें विशेष कार्य बल समूह के सदस्य थे। उनका शव बाद में देहरादून ले जाया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पाक आतंकियों के खिलाफ नारे लगा रहे थे लोग