DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन के बाद सहवाग ने रचा इतिहास, ठोंके धुआंधार 219

सचिन के बाद सहवाग ने रचा इतिहास, ठोंके धुआंधार 219

विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग गुरुवार को यहां वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे वनडे में एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ व्यक्गित 219 रन की पारी खेलने के साथ टेस्ट और वनडे दोनों तरह के क्रिकेट में भारत की ओर से सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर बनाने वाले बल्लेबाज बने। वह इस दौरान अंतरराष्ट्रीय वनडे मैचों में दोहरा शतक बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज भी बने।

सहवाग ने 2008 में चेन्नई में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच में 319 रन बनाये थे। वह टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक जड़ने वाले एकमात्र भारतीय बल्लेबाज हैं। इससे पहले एकदिवसीय मैचों में एकमात्र दोहरा शतक भारत के ही दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज था जिन्होंने 24 फरवरी 2010 को ग्वालियर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ नाबाद 200 रन की पारी खेली थी।

सहवाग ने होलकर स्टेडियम में कीरोन पोलार्ड की गेंद पर स्थानापन्न खिलाड़ी एंथोनी मार्टिन को कैच थमाने से पहले अपनी पारी के दौरान 149 गेंद का सामना करते हुए सात छक्के और 25 चौके जड़े जिससे भारत ने एकदिवसीय क्रिकेट का अपना सर्वाधिक पांच विकेट पर 418 रन का स्कोर बनाया। इस मैच से पहले सहवाग का सर्वाधिक स्कोर 175 रन था जो उन्होंने इसी साल विश्व कप के पहले मैच में बांग्लादेश के खिलाफ मीरपुर में बनाया था।

सहवाग ने अपनी इस पारी के दौरान वनडे क्रिकेट में आठ हजार रन भी पूरे किये। इस मैच से पहले उन्होंने 239 मैचों में 34.84 की औसत से 7806 रन बनाये थे जिसमें 14 शतक और 37 अर्धशतक शामिल थे। वह एकदिवसीय मैचों में आठ हजार रन पूरे करने वाले छठे भारतीय बल्लेबाज हैं। उनसे पहले सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, मोहम्मद अजहरूददीन और युवराज सिंह भारत की ओर से वनडे क्रिकेट में आठ हजार या इससे अधिक रन बना चुके हैं।

मौजूदा श्रृंखला में भारतीय कप्तान की भूमिका निभा रहे सहवाग ने भारतीय पारी के 44वें ओवर में आंद्रे रसेल की गेंद को स्क्वायर कट से चार रन के लिए भेजकर वनडे इतिहास का दूसरा दोहरा शतक पूरा किया तो खचाखच भरे होलकर स्टेडियम में दर्शक झूम उठे।

सहवाग ने 1999 में मोहाली में पाकिस्तान के खिलाफ एकदिवसीय मैचों में पदार्पण किया और शुरूआत से ही उन्हें उनके आक्रामक तेवरों ने विशिष्ट पहचान दिलाई। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भी खूब रन बटोरे। यह बल्लेबाज टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरे शतक जड़ने वाले दुनिया के चार बल्लेबाजों में शामिल हैं। उन्हें टेस्ट क्रिकेट में अब तक 92 मैचों में 52.15 की औसत से 7980 रन बनाये हैं जिसमें 22 शतक शामिल हैं।

सहवाग 2009 में श्रीलंका के खिलाफ मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम में अपना तीसरा तिहरा शतक जड़ने के भी करीब पहुंचा था लेकिन 293 रन बनाकर आउट हो गया। उन्होंने इसके अलावा टेस्ट मैचों में 39 जबकि वनडे मैचों में 92 विकेट भी चटकाये हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सचिन के बाद सहवाग ने रचा इतिहास, ठोंके धुआंधार 219