DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंटरनेट की दुनिया में सिब्बल पर हमले तेज

इंटरनेट की दुनिया में सिब्बल पर हमले तेज

सरकार की ओर से सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर डाले जाने वाले संदेश-सामग्रियों (कंटेंट) पर निगरानी करने संबंधी पहल को लेकर दूरसंचार मंत्री कपिल सिब्बल इंटरनेट का इस्तेमाल करने वालों के निशाने पर आ गए हैं। इंटरनेट की दुनिया में सरकार की ओर से की जाने वाली कथित सेंसरशिप को लेकर सख्त प्रतिक्रिया जताई जा रही है।

सांसद राजीव चंद्रशेखर, लेखिका शोभा डे और फिल्मकार शेखर कपूर जैसी हस्तियों ने भी सिब्बल के उस बयान पर नाखुशी जाहिर की है, जिसमें केंद्रीय मंत्री ने संकेत दिया था कि सरकार इंटरनेट साइट पर मौजूद आपत्तिजनक एवं आक्रामक सामग्रियों को हटाने के लिए कदम उठा सकती है।

इन हस्तियों का कहना है कि सरकार विचारों पर सेंसर नहीं कर सकती और अभिव्यक्ति की आजादी को भी नहीं दबाया जा सकता।  माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट टि्वटर पर सिब्बल और कथित सेंसरशिप को लेकर लोग धड़ल्ले से अपने विचार रख रहे हैं।

सांसद चंद्रशेखर ने अपने ट्वीट में कहा कि क्या आप सोच सकते हैं कि दूरसंचार विभाग में कुछ नौकरशाहों को काम दिया जा रहा है कि वे इंटरनेट पर संदेश-सामग्री के बारे में फैसला करें कि ये उचित हैं अथवा अनुचित।

मशहूर स्टॉक ब्रोकर राकेश झुनझुनवाला ने कहा कि मैं नहीं समझता कि सिब्बल को इंटरनेट की समझ भी है। जब आप दूरसंचार विभाग का मंत्री एक वकील को बना देते हैं तो ऐसा ही होता है। यह उसी तरह है कि मायावती को आइटम गाने के लिए रख लिया जाए।
फिल्मकार शेखर कपूर ने ट्वीट में कहा कि सोशल मीडिया पर हर व्यक्ति क्षमतावान और प्रभावशाली है। यह सरकार के रखवालों को डरा रहा है।

लेखिका और सोशलाइट शोभा डे ने कहा कि सिब्बल साहब, यह कदम इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले 10 करोड़ लोगों के इस देश में एक मैडम की निजता सुरक्षित करने के लिए है हम अपनी आजादी पंसद करते हैं और इसे बरकरार रखेंगे।

फिल्मकार कुनाल कोहली का कहना है कि सरकार की ओर से इंटरनेट को लेकर किसी भी तरह की सेंसरशिप अभिव्यक्ति की आजादी का गला घोंटना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंटरनेट की दुनिया में सिब्बल पर हमले तेज