अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घाटी में चुनाव के तीसरे दौर में 62 फीसदी मतदान

जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में रविवार को एक बार फिर हुर्रियत काफ्रेंस के चुनाव बहिष्कार के आह्वान को धता बताते हुए लगभग 62 प्रतिशत मतदाताआें ने कड़ी सुरक्षा के बीच कुपवाड़ा जिले की पांच सीटांे के लिए मतदान किया। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार त्रेहगा में मतदान में खलल डालने की प्रदर्शनकारियांे की दो छिटपुट कोशिशों को छोड़कर मतदान कमोबेश शांतिपूर्ण रहा। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से लगे करनाह में सर्वाधिक 7प्रतिशत, मतदान हुआ जबकि लोलाब में 65 प्रतिशत, हंडवारा में 60 प्रतिशत और लांगटे में 54 मतदान रिकार्ड किया गया। हालांकि सुबह मतदान बड़ी धीमी गति से शुरू हुआ। किसी किसी मतदान कें द्र पर तो आधे घंटे तक कोई मतदाता नहीं पहुंचा लेकिन धीरे-धीरे मतदाताआंे की लंबी लंबी कतारें देखी गईं। हालांकि केरन और करनाह में मतदाता मतदान केन्द्र के बाहर आठ बजे से पहले ही पहुंच गए थे। नियंत्रण रेखा पर स्थित गांवों में मतदाताआें में खासा उत्साह देखा गया। मतदाताआें ने बताया कि उनका गांव नियंत्रण रेखा पर स्थित होने के कारण हमेशा पाकिस्तानी सेना के निशाने पर रहते हैं। इसलिए प्रशासन ने उनके मतदान के किए विशेष प्रबंध किए है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: घाटी में चुनाव के तीसरे दौर में 62 फीसदी मतदान