DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विशेष कानून हटे लेकिन सेना का मनोबल न टूटे: महबूबा

विशेष कानून हटे लेकिन सेना का मनोबल न टूटे: महबूबा

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की नेता महबूबा मुफ्ती ने शनिवार को कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ सुरक्षा बलों ने ‘प्रशंसनीय काम’ किया है, लेकिन सशस्त्र बल विशेष शक्तियां अधिनियम (एएफएसपीए) हटाने की मांग से सुरक्षाबलों को यह अनुभव नहीं होना चाहिए कि उन्हें यहां से दूर निकाला जा रहा है।

मुफ्ती ने ‘हिंदुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट’ से इतर पत्रकारों से कहा कि हम भी चाहते हैं कि काला कानून वापस हो। सुरक्षा बलों ने प्रशंसनीय काम किया है। उनकी सम्मान के साथ विदाई होनी चाहिए। आप उन्हें यह अनुभव न कराएं कि उन्हें वहां से निकाला जा रहा है।

मुफ्ती ने कहा कि एएफएसपीए को हटाए जाने को लेकर मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने जिस तरीके से स्थिति से निपटा है, वह उसका विरोध करती हैं। मुफ्ती ने कहा कि उमर ने अव्यवस्थित तरीके से काम किया जिसने सेना सहित सभी को चौंका दिया।

उन्होंने कहा कि एएफएसपीए को हटाए जाने का उमर का आह्वान राज्य के लोगों के साथ एक मजाक है। उन्होंने उन इलाकों से एएफएसपीए हटाए जाने की मांग की जहां सेना कार्रवाई नहीं कर रही है। इससे जनता का क्या भला होगा।

मुफ्ती ने कहा कि हमें एएफएसपीए को हटाए जाने को लेकर आम सहमति बनाने की जरूरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विशेष कानून हटे लेकिन सेना का मनोबल न टूटे: महबूबा