DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोनिया को नंबर-1 बनाना लोकतंत्र के लिए गलतः आडवाणी

सोनिया को नंबर-1 बनाना लोकतंत्र के लिए गलतः आडवाणी

भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने संप्रग सरकार की कार्यप्रणाली की आलोचना करते हुए कहा कि कम्युनिस्ट व्यवस्था की तरह इसमें पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी प्रमुख है और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह गौण।

सोनिया और सिंह को आड़े हाथ लेते हुए आडवाणी ने कहा, लोकतंत्र में ऐसा व्यक्ति नंबर वन नहीं हो सकता जिसे ज्यादा लोग नहीं जानते हों। उन्होंने कहा वह किसी ऐसे पत्रकार को नहीं जानते जो सोनिया गांधी को जानने का दावा कर सकें।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के रूप में सिंह का अपने अधिकारों का इस्तेमाल नहीं कर पाने का एक कारण यह है कि उन्होंने शासन के इस कम्युनिस्ट प्रारूप को स्वीकार किया जो लोकतंत्र में उचित नहीं है।

एचटी लीडरशिप सम्मेलन में आडवाणी ने सवालों के जवाब में कहा, सिंह को कमजोर प्रधानमंत्री बताए जाने के लिए मेरी आलोचना की गई। लेकिन विभिन्न अवसरों पर लोग मेरे पास आए और कहा आप जो कह रहे थे वह सच साबित हुआ।

आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा की ओर से उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने की संभावना के बारे में उन्होंने कहा कि यह निर्णय करना पार्टी का काम है। यह कहे जाने पर कि अगर पार्टी ने उन्हें उम्मीदवार बनाया तो क्या वह इंकार करेंगे, राजग के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि यह उनकी सेहत और समय पर निर्भर करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोनिया को नंबर-1 बनाना गलतः आडवाणी