DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नोट छापने वाले गिरोह का भंडाफोड़

फिल्मी स्टाइल में ग्राहक का छद्म वेश धारण कर पटना पुलिस की विशेष टीम ने सोमवार को नकली नोट की छपाई करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए सरगना समेत 7 शातिर गुर्गो को रंगेहाथ धर दबोचा। पुलिस तब चौंकी जब जालसाजों ने स्मैक का काला धंधा व ठगी करने की भी बात स्वीकारी। शहर के विभिन्न इलाकों में छापेमारी करते हुए पुलिस ने आरोपितों सरयू राय (सरगना), प्रेम कुमार, राजू मियां, महमूद मियां, राजू पासवान, विजेन्द्र सिंह और धनंजय कुमार के पास से करीब 1.0 लाख का नकली नोट, 33 हजार नकद, नोट छापने वाला कम्प्यूटर, मॉनीटर, सीपीयू, प्रिंटर, यूपीएस, प्रिंटर पेपर, इंक, सिरिंज (3 पीस), 5 मोबाइल, नोट साइज का कटिंग पेपर, दो अटैची, 100 ग्राम स्मैक आदि बरामद किये गये।ड्ढr ड्ढr पटना सिटी के गायघाट स्थित एक घर में धंधेबाजों ने नकली नोट छापने की मुकम्मल व्यवस्था कर रखी थी। गोरखधंधे की सूचना पर एसएसपी अमित कुमार ने फुलवारीशरीफ डीएसपी दिलनवाज के नेतृत्व में बेउर थानाध्यक्ष कैसर आलम आदि की विशेष टीम गठित कर गिरोह के पीछे लगा दिया। मुखबिरों की सूचना पर पुलिस दस्ते ने ग्राहक के वेश में सिपारा में एजेंट की भूमिका निभाने वाले तीन लोगों प्रम, राजू और महमूद को नकली नोट के साथ पकड़ा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नोट छापने वाले गिरोह का भंडाफोड़