अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोर्गे की फाइल बंद करने की तैयारी

उद्योगपति अनिल अंबानी के हेलीकाप्टर से छेड़छाड़ मामले के गवाह भरत बोर्गे की रहस्यमय मौत की जांच की फाइल बंद करने की तैयारी चल रही है। रेलवे पुलिस इस मामले की तीन दिनों की जांच में ही बोर्गे की मौत को खुदकुशी बताने की कोशिश में है। हालांकि रलवे पुलिस मुंबई क्राइम ब्रांच-े उस पुलिस अफसर के बयान दर्ज करने की खानापूर्ति भी कर लेना चाहती है ताकि जांच का कोई हिस्सा न बच पाए, जबकि बोर्गे ने अपने पत्र में उस अफसर को क्लीन चिट दे चुका था। बोर्गे के उसी पत्र में अंबानी के जिन अधिकारियों के बार में लिखा गया था उनको रलवे पुलिस ने पूछताछ के बाद क्लीन चिट दे दिया है। अंबानी की कंपनी के ये अधिकारी पूर्व डीाीपी केके कश्यप, सेवानिवृत सहायक पुलिस आयुक्त शैलेश काले और सेवानिवृत िवग कमांडर सावला थे। बोर्गे अंबानी ग्रुप के हेलीकाप्टरों की देखरख और मरम्मत करने वाली एयरवक्र्स कंपनी का कर्मचारी था और उसी ने अंबानी के हेलीकाप्टर के ईंधन टैंकर में पत्थर के टुकड़े और रत देखे थे। इसके बाद अंबानी ग्रुप की ओर से यह आशंका जाहिर की गई थी कि यह अनिल अंबानी को मारने की साजिश हो सकती है। इस हाई-प्रोफाइल मामले की जांच महाराष्ट्र सरकार के निर्देश पर शुरू हुई और बोर्गे से क्राइम ब्रांच की पुलिस ने पूछताछ की गई। बोर्गे से अंबानी ग्रुप के अधिकारी भी मिले थे। इसके बाद बोर्गे डर गया था और उसने अपने मित्र को फोन पर बताया था कि उसकी जान को खतरा है। अचानक 28 अप्रैल को बोर्गे की लाश विले पार्ले रलवे लाइन पर मिली। उसके पास से क्राइम ब्रांच के जांच अधिकारी के नाम मराठी में लिखा खत मिला। बोर्गे की मौत से पहले से क्राइम ब्रांच अंबानी के हेलीकाप्टर से छेड़छाड़ की जांच कर रही है। मगर बोर्गे की मौत के बाद इन दोनों मामलों को रलवे पुलिस और क्राइम ब्रांच अपनी-अपनी तरह से जांच कर रही है। रलवे पुलिस बोर्गे की मौत की गुत्थी सुलझाने में लगी है तो क्राइम ब्रांच अंबानी के हेलीकाप्टर के ईंधन टैंकर में पत्थर डालने वाले को खोज रही है। इधर एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी का कहना है कि इन दोनों मामलों की जांच एक ही एजंसी को करनी चाहिए। मगर दो एजंसियों के जांच करने से मामला सुलझ नहीं रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बोर्गे की फाइल बंद करने की तैयारी