DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

91 हचाार करोड़ का होगा निवेश

राज्य की छवि सुधारने के सरकार के प्रयासों का असर दिखने लगा है। इसी के साथ सूबे में निवेश का रास्ता भी साफ होने लगा है। कल-कारखाने लगाने के लिए मंजूरी देने वाले राज्य निवेश प्रोत्साहन पर्षद को नित नये प्रस्ताव मिल रहे हैं। पर्षद ने अब तक ऐसे 156 प्रस्तावों को सहमति दी है। इसके जरिए सूबे में लगभग हजार करोड़ रुपए का निवेश होगा। राज्य में निवेश के इन नये प्रस्तावों से लगभग सवा लाख लोगों को नौकरी मिलेगी।ड्ढr ड्ढr उद्योग मंत्री दिनेशचन्द्र यादव ने बताया कि मंदी के इस दौर में देश की बड़ी कंपनियों में भले नौकरी के लाले पड़े हों लेकिन राज्य के युवकों की चांदी है। आने वाले दिनों में इन उद्योगों के खड़े होते ही रोजगार की समस्या भी हल होगी। हाल में दो नये पावर प्लांट लगाने के प्रस्ताव स्वीकृत किये गये हैं तो फूड प्रोसेसिंग के भी पांच नये प्रस्ताव स्वीकृत हुए हैं। कई अन्य बड़े नये प्रस्तावों को स्वीकृत किये जाने के बाद सूबे में पावर प्लांट लगाने के 1नई चीनी मिलों के 23 और फूड प्रोसेसिंग के 18 प्रस्ताव स्वीकृत किये गये हैं। इसके अलावा जिन प्रस्तावों को स्वीकृति मिली है उनमें 7 कार्यरत मिलों का विस्तार करने और कार्यरत दो में इथनॉल प्लांट लगाने को लेकर है। इसके साथ ही गन्ने के रस से इथनॉल की 14 इकाइयां लगाने, 16 स्टील प्रोसेसिंग एवं सीमेंट, तकनीकी संस्थान (इंजीनियरिंग कालेज, मैनेजमेंट आदि) के 17, चिकित्सा संस्थान (मेडिकल कालेज-हॉस्पीटल) खोलने के साथ ही अन्य 35 प्रस्ताव भी शामिल हैं। विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक पर्षद से सहमति प्राप्त प्रस्तावों को अमल में लाने के लिए 620 करोड़ रुपए का निवेश हो चुका है। लगभग दर्जन भर इकाइयों से उत्पादन चालू कर दिया गया है तो तीन इकाइयां उत्पादन के लिये तैयार हैं। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 45 इकाइयों का काम एडवांस स्टेा में हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 91 हचाार करोड़ का होगा निवेश