DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हीलाहवाली न कर,वादा निभाए पाक

पाकिस्तान के राष्ट्रपतिोरदारी बार-बार यह कह रहे हैं कि मुम्बई हमलों में शामिल लोग अलग-अलगोगहों के थे। मानाोा रहा है कि राइस ने यह बातोरदारी के बयान की काट के रूप में कही है। भारतीय विदेश मंत्री प्रणव मुखर्ाी के साथ बैठक के बाद संयुक्त प्रेस वार्ता में राइस ने कहा कि बाहरी होने के बावाूद यह आतंकी किसी न किसी देश की शह पर ही काम कर रहे थे। इनके खिलाफ कार्रवाई तो होनी ही चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं भारत के साथ एकाुटता प्रदर्शित करने और हर संभव मदद के लिए आई हूँ। पाकिस्तान को चाहिए कि वह मिल रही सूचनाओं के आधार पर कार्रवाई में लगोाए। राइस ने इस संभावना से भी इनकार नहीं किया कि इन हमलों में अलकायदा का हाथ हो सकता है।ड्ढr भारत की पाकिस्तान से 20 भगोड़े आतंकियों को सौंपने की माँग पर अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि वह इन सब कयासों में समय नहीं खराब करंगी कि पाकिस्तान क्या रवैया अपनाता है। सबसेोरूरी है कि सहयोग में पारदर्शिता, कार्रवाई और शीघ्रता का भाव हो। पाकिस्तान को यह संदेश दे दिया गया है और फिर दियाोाएगा। उन्होंने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन और भारत ौसे देश इस समस्या की तह तकोाकर अपराधियों को साा दिलाना चाहते हैं।ड्ढr राइस ने बुधवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, गृह मंत्री पी.चिदम्बरम और नेता विपक्ष लालकृष्ण आडवाणी से भी मुलाकात की। (साथ में एोंसियाँ)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हीलाहवाली न कर,वादा निभाए पाक