अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अभेद्य की हवाई किलाबंदी

आंतकवादी हमले की संभावना के मद्देनजर राजधानी सहित देश के प्रमुख हवाई अ़्ड्डों पर अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया है। ब्यूरो ऑफ सिविल एवीएशन (बीसीए) ने गुरुवार को हवाई अड्डों की सुरक्षा कर रहे सीआईएसएफ को सुरक्षा के सख्त निर्देश जारी किये हैं। यात्रियों से सुरक्षा जांच के लिए उड़ान समय से तीन घंटे पहले हवाई अड्डा पहुंचने के विशेष संदेश भेजे जाने से यात्रियों में झुंझलाहट रही। आंतकवादी हमले के मद्देनजर सुरक्षा एजंसियों ने देश के सभी हवाई अ्ड्ढों ,खासकर दिल्ली , चेन्नई और बेंग्लूरु हवाई अड्डों को किसी भी अनहोनी से निबटने के लिए एलर्ट रहने को कहा है। इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) ने सरकार को भेजी अपनी ताजा चेतावनी में आशंका व्यक्त की है कि अयोध्या में बाबरी मसिद गिराये जाने की 16वीं बरसी पर छह दिसम्बर को जेहादी राजधानी में तबाही मचाने की को्शश कर सकते हैं। आईबी ने विमान अपहरण के साथ अमेरिका की तर्ज पर हवाई हमले की भी आशंका प्रकट की है। आईबी ने आशंका जाहिर की है कि अमेरिका मेंी तर्ज पर पाकिस्तान और अफ्गानिस्तान में सक्रिय जेहादी हवा और धरती पर तबाही मचाने की कोशिश कर सकते हैं। हवाई अड्डों की सुरक्षा के लिए विशेष तौर पर षडयंत्र विरोधी दस्ते का गठन किया गया है। सीआईएसएफ और ब्लैक कैट कमाण्डो (एनएसजी) को विशेष तौर पर मुस्तैद रहने के निर्देश जारी किये गए हैं। लश्कर के आधे दर्जन जेहादियों के राजधानी में घुस आने के खुलासे ने सुरक्षा संगठनों को पसीने छुड़ा दिए हैं। वायु सेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल फाली होमी मेजर ने मिली चेतावनी का हवाला देते हुए गुरुवार को स्वीकार किया कि आतंकवादी तत्व अमेरिका की तरह भारत पर हवाई हमला करने की साहस कर सकते हैं । उन्होंने कहा कि वायु सेना इससे निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री ए.के. एंटनी के साथ हुई सैन्य प्रमुखों की बैठक में भी बैठक में इस मुद्दे पर विचार किया गया ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अभेद्य की हवाई किलाबंदी