DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीस हचाारी में बम की अफवाह

तीस हाारी अदालत में वकील के वेश में छह आतंकियों के घुसने की खबर मिलते ही अफरा-तफरी मच गई। पीसीआर को फोन पर दी गई इस सूचना में कहा गया आतंकी सुबह दस बजे से ढाई बजे के बीच वारदात को अंजाम देंगे। सूचना मिलते ही दिल्ली पुलिस सहित अन्य सुरक्षा एजेंसियों की फौा तीस हाारी बुला ली गई। मौके पर बम निरोधक दस्ते व डॉग स्क्वाड के दस्ते को भी बुला लिया गया। चारों तरफ से अदालत परिसर को सुरक्षाकर्मियों ने घेर लिया और जांच-पड़ताल की कार्रवाई आरंभ की गई।ड्ढr ड्ढr करीब चार घंटे तक चली जांच के बाद सूचना को गलत करार दिया गया है। जिसके बाद अदालत में मौजूद लोगों व सुरक्षाकर्मियोंे ने राहत की सांस ली। वकील के वेश में छह आतंकियों के तीस हाारी अदालत में घुसने की खबर पुलिस कंट्रोल रुम को सुबह करीब नौ बजकर 12 मिनट पर मिली। सूचना मिलते ही उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त सागर प्रीत हुड्डा व अन्य आला अधिकारी भारी संख्या में सुरक्षाकर्मियों के साथ तीस हाारी अदालत पहुंच गए। बम निरोधक दस्ते व डॉग स्क्वाड दस्ते को भी मौके पर बुला लिया गया। आलम यह था कि उत्तरी जिले के करीब सभी थानाध्यक्ष अपनी-अपनी टीम के साथ तीस हाारी पहुंच गए थे। दिल्ली पुलिस के अलावा अन्य सुरक्षा एजेंसियों के जवानों ने भी ऐहतियात के तौर पर मोर्चा संभाल लिया। फोन आने के महा आधे घंटे के भीतर ही तीस हाारी अदालत छावनी में तब्दील हो गया था। अदालत परिसर से लेकर बाहर तक सुरक्षाकर्मियों का जाल बिछ गया था।ड्ढr ड्ढr एहतियात के तौर पर कमांडो दस्ते को भी बुला लिया गया था। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने तीस हाारी के चप्पे-चप्पे की तलाशी लेना आरंभ किया। उधर आतंकियों के अदालत में घुसने की सूचना मिलते ही अदालत का कामकाज बंद कर दिया गया। गुरुवार को होने वाली कार्रवाई शुक्रवार तक स्थगित कर दी गई। पूरा परिसर खाली करा लिया गया। जगह-ागह डॉग स्क्वाड व बम निरोधक दस्ते ने तलाशी ली। कहीं कुछ भी नहीं मिला। लेकिन ऐहतियात के तौर करीब ढाई बजे तक जांच की कार्रवाई चलती रही। पुलिस ने यह भी पता कर लिया है कि फोन लेडी हार्डिग अस्पताल के समीप स्थित बूथ से किया गया था। पुलिस फोन करने वाले की तलाश कर रही है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: तीस हचाारी में बम की अफवाह