DA Image
19 जनवरी, 2020|11:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भुजबल होंगे उपमुख्यमंत्री, सीएम पर फैसला टला

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने शुक्रवार को अपने नेता छगन भुजबल को महाराष्ट्र का उपमुख्यमंत्री बनाने की घोषणा की है। राकांपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अरुण गुजराती ने बताया कि उप मुख्यमंत्री पद के लिए भुजबल के नाम की घोषणा पुणे में पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद पवार ने की। लोकनिर्माण विभाग का काम देख रहे भुजबल के कंधे पर अब गृह मंत्रालय भी होगा। मुंबई हमलों की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए राकांपा नेता आर.आर. पाटिल ने उपमुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था। इससे पहले भी छगन भुजबल राज्य में गृह मंत्री रह चुके हैं। जानकारों का मानना है कि एनसीपी द्वारा छगन भुजबल को उपमुख्यमंत्री और गृह मंत्री का पद देने की घोषणा के साथ ही मुख्यमंत्री रूप में अशोक चव्हाण की दावेदारी मजबूत हो गई है। इससे पहले मुंबई में हुए आतंकवादी हमले के बाद पहले तो महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख ने इस्तीफा देने में समय लगाया और अब कांग्रेस में नये मुख्यमंत्री का नाम आज तय होगा कल होगा के बीच दिल कबड्डी का सियासी खेल हो रहा है। विलासराव देशमुख के इस्तीफा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजने के बाद यह कई दिनों तक उनके पास पड़ा रहा और आखिर कार बुधवार को को जब उनका इस्तीफा मंजूर हुआ तो अगले दिन गुरुवार को देशमुख के उत्तराधिकारी को चुने जाने की बात कही गई। पहले नाम गुरुवार शाम को तय किए जाने की बात हुई लेकिन जब गुरुवार शाम भी बात नहीं बनी तो बात शुक्रवार सुबह 10 बजे तक टाल दी गई। शुक्रवार सुबह भी एक बार फिर कांग्रेस ने पलटी मारते हुए बताया कि मुख्यमंत्री का नाम शुक्रवार शाम को तय किया जाएगा। माना जा रहा है कि इस देरी के पीछे राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे हैं, जो अभी भी अपनी मांगों पर अडे हुए हैं। कांग्रेस को उनकी बगावत से जल्द ही होने वाले आम चुनावों में नुकसान होने का डर है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: भुजबल होंगे उपमुख्यमंत्री, सीएम पर फैसला टला