अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत-रूस रिश्ते ऐतिहासिक : मनमोहन

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शुक्रवार को कहा कि भारत-रूस के संबंध समय की कसौटी पर खरे उतरे हैं। मनमोहन सिंह यहां रूस के राष्ट्रपति दमित्रि मेदवेदेव के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत और रूस के बीच कई समझौतों पर दस्तखत किए गए हैं, जो रूस के साथ सहयोग में मील का पत्थर साबित होंगे। दोनों देशों के बीच कई समझौतों पर दस्तखत के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि यह रिश्ता समय की कसौटी पर खरा उतरा है। उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में रूस ने हमेशा भारत का साथ दिया है। रूस मानव अंतरिक्ष उड़ान कार्यक्रम में भी भारत का सहयोग कर रहा है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच विचार-विमर्श में भी खासी तेजी आई है। मुंबई पर आतंकवादी हमलों को सर्वहारा समाज के लिए चुनौती बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्व शांति को बढ़ावा देने के लिए भारत और रूस बहुत कुछ कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भारत-रूस रिश्ते ऐतिहासिक : मनमोहन