DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाषण, वाद-विवाद में दिखी प्रतिभा

इंटर यूनिवर्सिटी यूथ फेस्टिवल के चौथे दिन युवाओं का जोश पूर तेवर के साथ दिखा। भाषण और वाद-विवाद प्रतियोगिता में युवाओं ने उत्साह से भाग लिया। विषय था- क्या युवा एड्स के लिए जिम्मेदार हैं। छात्रों ने एड्स की जागरूकता के लिए युवाओं से आगे आने की अपील की। वाद-विवाद प्रतियोगिता में मणिपुर यूनिवर्सिटी, रांची यूनिवर्सिटी, बहरामपुर यूनिवर्सिटी, कल्याणी यूनिवर्सिटी, एसकेएम दुमका यूनिवर्सिटी, विनोबाभावे यूनिवर्सिटी से पक्ष और विपक्ष संदर्भ में युवाओं ने अपने विचार रखे।ड्ढr काटरून प्रतियोगिताड्ढr पुलिस और आतंकवाद की थीम पर काटरूनिंग प्रतियोगिता हुई। प्रतिभागियों ने कैनवस पर दोनों थीमों का जबरदस्त चित्र उकेरा। रांची यूनिवर्सिटी के सुंदर मोहन मुमरू ने पुलिस का काटरून बनाया। बीएयू के स्वप्न कुमार ने आतंकवाद का काटरून बनाया।ड्ढr मिमिक्री और क्िवजड्ढr इंटर यूनिवर्सिटी फेस्टिवल के चौथे दिन सार इवेंट संपन्न हो गये। पांच दिसंबर को साइंस एवं ऑट्स ब्लॉक में भाषण, स्कीट, माइम, मिमिक्री और क्िवज हुआ। भाषण प्रतियोगिता में मेर सपनों का भारत विषय पर छात्रों ने अपने देश की कल्पना एक विश्व सर्वोच्च शिखर पर की। साथ ही कुछ ने विजन 2020 पर भी अपनी राय दी। इसमें 12 यूनिवर्सिटी की टीम ने भाग लिया। देर शाम आयोजित स्किट में देश की वर्तमान स्थिति का चित्रण किया गया। आतंकवाद के खिलाफ नाटकवन एक्ट प्ले में छात्रों ने आतंकवाद के खिलाफ चेतना की लहर दौड़ायी, तो यह भी बताया कि सामाजिक परिदृश्य में एकता से बढ़कर कुछ भी नहीं है। शिक्षा के साथ समाज के समांतर विकास पर भी छात्रों ने अपने संदेश दिये। रांची यूनिवर्सिटी की प्रस्तुति चेतना के अंकुर में छात्रों ने बताया कि प्रश्न उठाना जीवंतता है और उनके उत्तर स्वंय ढ़ढूने का प्रयास किया जाना चाहिये। कल्याणी यूनिवर्सिटी की प्रस्तुति में देश की समृद्धि के लिए प्रार्थना, राजनैतिक- सामाजिक परिदृश्य, आतंकवाद, युद्ध और लोगों की व्यथा को बताया गया। एसकेएम यूनिवर्सिटी दुमका ने भारतीय संविधान की हत्या का प्रयास विषय पर नाटक का मंचन किया। इस मंचन में मनसे कार्यकताओं की ज्यादती और क्षेत्रवाद की समस्या का संदेश का दिया।ड्ढr नाटक मंचन का कार्यक्रम सुबह ग्यारह बजे से आरंभ किया गयाा, जिसमें अन्य विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने भी आतंकवाद, स्त्री की दुर्दशा और अन्य समाजिक पहलुओं को बताया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाषण, वाद-विवाद में दिखी प्रतिभा