DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत के अमीर हो रहे हैं गरीब

भारत के अमीर हो रहे हैं गरीब

घरेलू शेयर बाजारों के गिरने, आर्थिक घोटालों और वैश्विक मंदी की मार से भारत के अमीर लगातार गरीब हो रहे है। पिछले वर्ष देश के 100 शीर्षतम धनाढ्य लोगों की कुल परिसंपत्ति में 20 प्रतिशत की कमी आई है।
 
दुनियाभर में धन संपत्ति का अध्ययन करने वाली पत्रिका फोर्ब्स के ताजा अंक में कहा गया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश धीरूभाई अंबानी 22.6 अरब डालर की परिसंपत्ति के साथ देश के धनाढ्य लोगों की सूची में शीर्ष पर विद्यमान है। हालांकि वर्ष 2010 में उनकी परिसंपत्ति में 4.4 अरब डालर की गिरावट दर्ज की गई है। इसी वर्ष मुकेश अंबानी ने अपने लिए मुंबई में एक अरब डालर की लागत से 27 मंजिलें आशियाने का निर्माण भी कराया है।

मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल अंबानी वर्ष 2010 में नुकसान उठाने वाले उद्योगपतियों में शीर्ष पर रहे हैं। उनकी परिसंपत्ति 13.3 अरब डालर से सिमटकर 5.9 अरब डालर पर आ गई है। उनकी नेतृत्व वाली कंपनियों ने बीते वर्ष के दौरान बांबे शेयर बाजारो में सबसे खराब प्रदर्शन किया है।

अनिल अंबानी को सबसे बडा़ झटका उनकी कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस ने दिया। यह कंपनी 7.5 अरब डालर के ऋण में फंसी हुई है और इसके पूंजी उगाहने के कई प्रयास असफल हो चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत के अमीर हो रहे हैं गरीब