DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कारतूस तस्करों का भंडाफोड़, पांच धराए

छपरा से माओवादियों को कारतूस सप्लाई करने गया जा रहे पांच तस्करों को गिरफ्तार कर पटना पुलिस ने ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है। साथ ही .315 की पांच सौ, .32 की चार सौ, बारह बोर की ग्यारह, नाइन एमएम की एक पिस्टल (मैगीन सहित),एक नाइन एमएम पिस्टल की खाली मैगजीन व लूटे गए तीन वाहन (स्कॉर्पियो, बोलेरो व सैन्ट्रो) बरामद किये हैं। गिरोह का नेटवर्क राज्य के उत्तरी बिहार से मध्य बिहार तक फैला हुआ है। इस गिरोह के सप्लायर मुख्य रूप से माओवादियों को कारतूस व हथियार सप्लाई करते हैं। इससे पहले 17 नवंबर को पटना पुलिस ने नक्सलियों को हथियार सप्लाई करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया था। पुलिस ने पिछली बार दस हथियार सप्लायरों को राजधानी में 3 रग्यूलर राइफल, 5.20 लाख नकद, स्कॉर्पियो, बोलेरो के साथ गिरफ्तार किया था। हालांकि इन दोनों गिरोहों का एक-दूसर से कोई संबंध नहीं है।ड्ढr ड्ढr गिरफ्तारी को पटना पुलिस की बड़ी उपलब्धि बताते हुए शनिवार को एसएसपी अमित कुमार ने प्रस कांफ्रंस में कहा कि पुलिस इस गिरोह के पीछे कई दिनों से लगी थी। इसी क्रम में गुप्त सूचना पर विशेष पुलिस टीम ने शुक्रवार को गांधी सेतु पुल व जीरो माइल के बीच मोर्चेबन्दी कर सभी को पकड़ा। इस गैंग के जहानाबाद, गया आदि जिलों से तार जुड़े होने के पुख्ता प्रमाण मिले हैं। इसकी जांच के लिए लिए यहां से अलग-अलग पुलिस टीमें उन जिलों में भेजी जाएंगी। एसएसपी के अनुसार पिछले कई महीनों से यह संगठित गिरोह चल रहा है। माओवादी ही कारतूसों के मुख्य रूप से खरीदार हैं। इस धंधे से जुड़े चार -पांच और गैंग होने की आशंका है जिनकी पुलिस सरगर्मी से तलाश रही है। गिरफ्तार कारतूस सप्लायरों में प्रमुख व गिरोह का सरगना राजीव कुमार सिंह (तेतर, अतरी, गया) बताया जाता है। राजीव के तार गया व जहानाबाद के माओवादियों से जुड़े हैं। मेराजुल हक मल्लिक (दहियावां, छपरा) की छपरा में आर्म्स की लाइसेंसी दुकान है। मेराज पुणे स्थित आयुध कारखाने से फर्ाी लाइसेंस पर कारतूसों की सरकारी दर पर खरीद कर अपने गिरोह के सदस्यों के सहयोग से अधिक दाम में माओवादियों को कारतूस सप्लाई किया करता था। गिरोह में अरविन्द कुमार सिंह, अजय कुमार पाण्डेय, राकेश कुमार (सभी घोसरावां, गिरियक, नालन्दा) शामिल हैं। सभी गिरफ्तार तस्कर अपने-अपने क्षेत्र में कारतूस सप्लायर के रूप में जाने जाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कारतूस तस्करों का भंडाफोड़, पांच धराए