DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकायुक्त की सक्रियता ने मायावती की बढ़ाईं मुश्किलें

लोकायुक्त की सक्रियता ने मायावती की बढ़ाईं मुश्किलें

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तर प्रदेश के लोकायुक्त से राज्य के मुख्य सचिव अनूप मिश्र समेत छह वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ नोएडा भूमि आवंटन में आठ हजार करोड़ रुपए के घोटाले की सोमवार को शिकायत की।

इस नई शिकायत के साथ ही लोकायुक्त की सक्रियता से मायावती सरकार की मुश्किलें और भी बढ़ गई हैं। भाजपा सचिव किरीट सोमैया और कैप्टन विकास गुप्ता की शिकायत मिलने की पुष्टि करते हुए लोकायुक्त एन.के.मेहरोत्रा ने बताया कि शिकायती पत्र पर जांच जल्दी शुरू की जाएगी।

मेहरोत्रा के अनुसार, मुख्य सचिव अनूप मिश्र, पूर्व मुख्य सचिव अतुल कुमार गुप्त और वरिष्ठ आईएएस अधिकारी वी.के.शर्मा के साथ ही नोएडा विकास प्राधिकरण के ओ.एस.डी. यशपाल त्यागी, पूर्व अध्यक्ष मोहिन्दर सिंह, मुख्य कार्यपालक अधिकारी रमारमण के खिलाफ घोटाला करने का आरोप लगाया गया है। मिश्र, गुप्त और शर्मा को औद्योगिक विकास में रहते हुए गड़बड़ी करने का आरोप लगाया गया है।

सोमैया के अनुसार, जमीन की खरीद फरोख्त एक लाख करोड़ रुपए से अधिक की है, जिसमें कम से कम आठ हजार करोड़ रुपए का घोटाला किया गया है। एक सवाल के जवाब में लोकायुक्त ने बताया कि पूर्व श्रम मंत्री बादशाह सिंह के खिलाफ चल रही जांच की रिपोर्ट दो तीन दिन में मुख्यमंत्री के पास भेज दी जाएगी। हालांकि सिंह को मायावती ने मंत्रिमंडल से हटा दिया है।

जिले के अधिकारियों से समय पर रिपोर्ट प्राप्त हो जाने की वजह से लोकायुक्त कार्यालय का काम तेजी से आगे बढ़ा है, हालांकि यह परिवर्तन छह महीने में ही आया है। इसके पहले रिपोर्ट भेजने में जिले के आला अधिकारी टालमटोल करते रहते थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लोकायुक्त की सक्रियता ने बढ़ाईं मायावती की मुश्किलें