DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चिदंबरम कैबिनेट का फैसला नहीं बदल सकते थे: खुर्शीद

चिदंबरम कैबिनेट का फैसला नहीं बदल सकते थे: खुर्शीद

कानून मंत्री सलमान खुर्शीद ने स्वीकार किया कि वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी और गृह मंत्री पी चिदंबरम के बीच 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन को लेकर  कामकाजी मतभेद थे, लेकिन उन्होंने स्पेक्ट्रम आवंटन के लिए पहले आओ पहले पाओ नीति पर चिदंबरम का बचाव करते हुए कहा कि वह अकेले कैबिनेट के फैसले को नहीं बदल सकते थे।

खुर्शीद ने कहा कि चिदंबरम कैबिनेट के फैसले के बाद भी नीलामी पर जोर देते रहे। उन्होंने कहा कि तत्कालीन वित्त मंत्री चिदंबरम फैसला नहीं बदल सकते थे, क्योंकि यह कैबिनेट का फैसला था।

उन्होंने करण थापर के सीएनएऩ-आईबीएन चैनल पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम डेविल्स एडवोकेट में कहा कि क्या चिदंबरम अकेले कैबिनेट के फैसले को बदल सकते थे, जब कैबिनट ने नीलामी के खिलाफ एक बार फैसला कर लिया तो बाजार निर्धारण का क्या अलग तरीका हो सकता था।

खुर्शीद ने कहा कि जब कैबिनेट के किसी फैसले के संदर्भ में बड़ी संख्या में मंत्रियों और एक मंत्री के बीच असहमति हो या दो मंत्रियों के बीच असहमति हो, किसी एक बिन्दु पर आपको हां कहना होगा़।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चिदंबरम कैबिनेट का फैसला नहीं बदल सकते थे: खुर्शीद