अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किशोर की अंत्येष्टि से पहले यूनान में फिर भड़की हिंसा

यूनान शनिवार को पुलिस फायिरग में मार गए 15 वर्षीय एक किशोर की मंगलवार को हुई अंत्येष्टि से पहले अधिकांश बड़े शहरों में फिर से दंगे भड़क उठे। दशकों बाद व्यापक पैमाने पर भड़के दंगों में कानून-व्यवस्था की खस्ता हालत से निपटने के लिए प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। हिंसा में दर्जनों लोग घायल हुए हैं और संपत्ति का भारी नुकसान हुआ है। यूनान के प्रधानमंत्री कोस्तास कारामन्लिस ने मंगलवार को फिर कहा कि दोषियों को दंडित किया जाएगा। कोस्तास की अलोकप्रिय आर्थिक सुधारों को भी इस हिंसा के लिए परोक्ष तौर पर जिम्मेदार बताया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘मैंने राष्ट्रपति को आश्वस्त किया है कि दंगाइयों के प्रति कोई नरमी नहीं बरती जाएगी। इस घटना का फायदा उठाकर देश में हिंसा फैलाने की किसी को भी क्षाजत नहीं दी जाएगी।’ यूनान में पुलिस द्वारा 15 वर्षीय किशोर अलेक्ोंडर ग्रिगोरोपाउलस के मार जाने के बाद थिसालानिकी और एथेंस शहरों में शनिवार को व्यापक हिंसा भड़क उठी थी। यह हिंसा जल्द ही देश के अन्य में भी फैल गई। मंगलवार को पूरा दिन पुलिस व सरकारी कर्मचारियों को अराजक तत्वों द्वारा फैलाई गई हिंसा में बिखर बमों के टुकड़ों व कचरों का साफ करते देखा गया। प्रदर्शनकारियों ने सरकारी इमारतों और दफ्तरों को आग भी लगा दी। इसमें करीब 35 कारं जलकर राख हो गईं। एथेंस पुलिस के अनुसार, सोमवार की हिंसा में 12 पुलिसकर्मी घायल हुए और 87 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एथेंस में 10 जगहों पर पुलिस व सरकारी कर्मचारियों का प्रदर्शनकारियों से मुठभेड़ होने की खबर है। देश में सार स्कूल-कॉलेजों को मंगलवार को फिर से बंद कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: किशोर की अंत्येष्टि से पहले यूनान मेंहिंसा