DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छुट्टी एंज्वॉय करने पहुंची युवाओं की भीड़

पटना पुस्तक मेले में मंगलवार को बकरीद की छुट्टी के चलते पुस्तकप्रमियों की भीड़ उमड़ी। लोगों की भीड़ देख प्रकाशकों के चेहर भी कुछ खिले दिखे। मेले में युवाओं व बच्चों की भीड़ मैनेजमेंट, कंप्यूटर व कोचिंग क्लासों के स्टॉल पर जमी रही। प्रसिद्ध फिल्मकार प्रकाश झा निर्देशित वृत्तचित्र ‘लोकनायक’ के प्रदर्शन के साथ मंगलवार को बाइस्कोप की शुरुआत हुई।ड्ढr ड्ढr लोकनायक जेपी की जीवनी पर आधारित इस फिल्म मेंपटना रंगमंच के भी कई कलाकारों ने अपनी प्रतिभा दिखायी है। कला दीर्घा में संजय रॉय की नारी अस्मिता शीर्षक की पेंटिंग्स मन को झकझोर गयी। लोक भाषा संवाद के तहत नाटककार श्रीकांत व्यास ने पाठकों को अंगिका की कविताओं व गीतों का रसास्वादन कराया। संचालन अनीश अंकुर ने किया जबकि डा.अमर कुमार सिंह, डा.महेद्र प्रसाद यादव, हरीन्द्र विद्यार्थी आदि भी मौजूद थे। कोऑपरटिव कालेज, बेगूसराय के छात्रों ने ब्रजेश शर्मा लिखित व विजय कुमार निर्देशित साम्राज्यवाद पर करारा प्रहार करता नाटक ‘नहीं कबूल’ की नुक्कड़ प्रस्तुति से लोगों का बढ़िया मनोरंजन किया। आलोक, राजीव, नीतीश, राजकुमार, मनोज आदि ने प्रमुख भूमिका निभायी।ड्ढr ड्ढr सुनो कहानी में कथाकार सलिल सुधाकर अपनी कहानी ‘ताश का महल’ के साथ पाठकों से मुखातिब हुए। संचालन अजीत आजाद ने किया जबकि अध्यक्षता श्रीराम तिवारी ने की। भारत सरकार के गीत व नाटक प्रभाग के कलाकारों ने विंध्यवासिनी देवी मुक्ताकाश मंच पर एक नाटक का मंचन किया। विजय कुमार सिंह, सुलेखा,साधना श्रीवास्तव,बक्शी विकास, राजीव कु.मिश्र ने किरदारों को जिया। इरुडिशन यूथ फेस्टा के तहत रियल्टी शो शीर्षक पर अंग्रजी में लेख प्रतियोगिता हुई जिसमें बच्चों ने भाग लिया। आशाओं की उड़ान में बच्चों ने अपने लक्ष्य व भविष्य की बातें की। रमण सिंधी ने एंकरिंग की। क्िवज 20-20 में कृष्णा प्ररणा विजयी रहीं। संचालन शशिभूषण, इमरान, अक्षत व गौरव झा ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छुट्टी एंज्वॉय करने पहुंची युवाओं की भीड़